यूपी के प्राइमरी और जूनियर स्कूलों में वर्क फ्रॉम होम घोषित

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के तांडव को देखते हुए बेसिक शिक्षा परिषद ने एक बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश के बेसिक शिक्षा के 1 से 8 तक के सभी स्कूलों को 20 मई तक बंद रखा जाएगा। इस दौरान स्कूलों में किसी की आवाजाही नहीं रहेगी। परिषदीय शिक्षक, शिक्षामित्र, अनुदेशक और दूसरे लोग घर से ही काम करेंगे। बच्चों के लिए विद्यालय पहले से ही बंद हैं। उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने इस बाबत सूबे के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को सूचना दे दी है।

दरअसल कोरोना की वजह से पहले एक से आठ तक के सभी विद्यालय 30 अप्रैल तक बंद किए गए थे। अब योगी सरकार ने उस अवधि को बढ़ाते हुए 20 मई कर दिया है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को लिखें पत्र में सचिव ने कहा है कि, एक से कक्षा 8 तक के समस्त परिषदीय, सहायक प्राप्त, मान्यता प्राप्त और अन्य बोर्ड के विद्यालयों को 20 मई तक बंद किया जाता है। इस अवधि तक विद्यालय में छात्र-छात्राएं उपस्थित नहीं रहेंगे।

इसके अलावा कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए परिषदीय शिक्षकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों और दूसरे विभागीय कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति दी जाती है। दरअसल यूपी में महामारी लगातार अपना दायरा बढ़ाती जा रही है। इसको देखते हुए सरकार ने यह महत्वपूर्ण फैसला लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.