यूपी के हर जिले में बनेगा ट्रॉमा सेंटर, इमरजेंसी केयर के संस्थानों से होगा लैस

Yogi government accepts Priyanka Gandhi's proposal, seeks list of one thousand buses

राज्य सड़क सुरक्षा परिषद ने इमरजेंसी केयर के तहत प्रदेश में ट्रॉमा
सेंटरों का जाल बिछाने के निर्देश दिए हैं। जिसके तहत 2025 तक
सभी जिला व मंडलीय चिकित्सालयों का सुदृढीकरण लेवल-तीन
ट्रॉमा सेंटर के रूप में करने का लक्ष्य है।

राज्य के सभी जिलों में कम
से कम एक ट्रॉमा केयर केंद्र बनेंगे। राज्य के एक्सप्रेस-वे और नेशनल
हाइवे पर अस्पतालों को चिन्हित कर ट्रॉमा केयर केंद्र स्थापित करने
का काम भी तेज करने के निर्देश परिषद ने दिए हैं।

सड़क हादसों में
होने वाली मौत को न्यूनतम करने की कोशिशों के तहत राज्य सड़क
सुरक्षा परिषद ने चिकित्सीय सुविधाएं बढ़ाने पर विशेष फोकस किया
है।310 सीएचसी पर ट्रॉमा केयर गाइड लाइन के मुताबिक सुविधाएं
दी जा रही हैं।

सभी जिला व मंडलीय चिकित्सालयों को लेवल-तीन
ट्रॉमा सेंटर के रूप में सुदृढ़ीकरण का कार्य वर्ष 2025 तक किया
जाना है। केजीएमयू लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर को लेवल-एक का बनाए
जाने की कार्यवाही की जा रही है, यह काम जल्द पूरा कर लिया
जाएगा। राज्य में दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों में 310 सीएचसी चिन्हित
किया गया है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *