योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला,18 से 45 वर्ष की उम्र के लोगों को मिलेंगे 10 लाख रुपए जानिए कैसे

यूपी पंचायत चुनाव 2020: प्रधान पद के उम्मीदवार के लिए हरे रंग का होगा मतपत्र, जानें अन्य के बारें मे

उत्तर प्रदेश में होने वाले त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के लिए राज्य
निर्वाचन आयोग की तैयारियां और तेज हो गयी हैं। प्रयागराज स्थित
राजकीय प्रिंटिंग प्रेस में मतपत्रों की छपाई का काम भी शुरू हो गया
है।

प्रधान पद के प्रत्याशी के लिए हरे रंग का मतपत्र होगा जबकि ग्राम
पंचायत सदस्य के पद के उम्मीदवार के लिए सफेद रंग के मतपत्र
पर मतदाता को मुहर लगानी होगी।

इसी क्रम में क्षेत्र पंचायत सदस्य
पद के प्रत्याशी के लिए के नीले रंग का और जिला पंचायत सदस्य
पद के लिए गुलाबी रंग का मतपत्र छप रहा है।पहली अक्तूबर से शुरू
हुए वोटर लिस्ट पुनरीक्षण अभियान में बूथ लेबल आफिसर हर ग्राम
पंचायत में घर-घर जाकर वोटरों की जांच कर रहे हैं।

यह बीएलओ
वर्ष 2015 में हुए पिछले पंचायत चुनाव के बाद से अब तक परिवार
में 18 वर्ष की उम्र पूरी करने वाले युवाओं के नाम नये वोटर के रूप
में दर्ज कर रहे हैं, साथ ही इन पांच वर्षों में मृत या दूसरे राज्य में
स्थानांतरित हो गये वोटरों के नाम काट भी रहे हैं।इन बीएलओ के
लिए ई-बीएलओ एप भी लांच कर दिया गया है। इस एप पर बीएलओ
को राज्य निर्वाचन आयोग से मिलने वाले आदेश निर्देश की जानकारी
होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.