राजकोट बना देश का पहला 7 लेयर मास्क उत्पादक जिला

आपदा को अवसर में बदलना गुजरात के लोग बखूबी जानते हैं। ऐसा ही एक उदाहरण कोरोना काल में युवा व्यवसायी भावेश बुसा के रूप में सामने आया है। बुसा ने राजकोट के मेटोडा जीआईडीसी में मौजूद अपनी कंपनी में 7 लेयर मास्क का उत्पादन शुरू किया है। इस प्रकार राजकोट देश का पहला शहर है जहां 7-लेयर मास्क का बड़े पैमाने पर उत्पादन किया जा रहा है। कंपनी वर्तमान में एक दिन में लगभग 500 मास्क का उत्पादन करती है। अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन जैसे कई विदेशी देशों में इन मास्क की काफी मांग है।

कोरोना काल में स्पोर्ट्सवियर कंपनी को ऑर्डर मिलना बंद हो गया था। इस बीच राजकोट कलेक्टर रम्या मोहन ने उद्योगपतियों से वेंटिलेटर, पीपीई किट के साथ-साथ मास्क बनाने का आग्रह किया था। जिसके बाद भावेशभाई ने भी मास्क बनाने का फैसला किया। स्वाभाविक रूप से उस समय बाजार में एन-95 मास्क की मांग लागत वहन नहीं कर सकती थी, क्योंकि यह महंगा था।

महिलाओं की प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत के कारण सिलाई कार्य के लिए महिला कारीगरों पर ध्यान केंद्रित किया गया। फैक्ट्री में काम करने वाली करीब 50 महिलाओं की टीम बनाई गई है। मास्क बनाने की प्रक्रिया में ड्राइंग, कटिंग, सिलाई, विभिन्न सामग्रियों से बॉर्डर बनाने, ईयर रबर लगाने, लोगों को चिपकाने, मास्क टेस्टिंग और पैकिंग की प्रक्रिया को इस टीम द्वारा किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.