रावण किससे डरता था और क्यों? जानिए

पापी व्यक्ति चाहे जितने भी वीर होने का दावा या दिखावा कर लें, अन्दर से भीरु ही होते हैं। उन्हें डर सताता है कि न जाने कब उन्हें उनके पापों या दुस्साहसों का दण्ड देने वाला सवा सेर मिल जाए।

रावण के बारे में भी ये बात सौ टका सत्य है। रावण जानता था कि वो युद्ध में भगवान् श्रीराम का सामना नहीं कर सकता है। इसलिए श्रीराम को उपस्थिति में सीता जी पर हमला करने या उनका अपहरण करने की उसकी हिम्मत ही नहीं हुई।

रावण श्रीराम से डरता था।

रावण डरता था, पूर्वकाल में किए गए अपने पापों के फल से, नल कुबेर के श्राप से… जिसके अनुसार यदि उसने किसी स्त्री का बलात्कार करने की कोशिश की, तो उसके सर के सौ टुकड़े हो जाएंगे… इसीलिए सीता जी के साथ गलत कार्य करने की कोशिश भी न कर सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published.