रोजाना लौंग खाने के जबरदस्त फायदे

लौंग रसोई के मसालों में एक महत्वपूर्ण घटक है। लौंग, हालांकि दिखने में छोटा है, बहुमुखी है। लौंग खाने का स्वाद बढ़ाने में उपयोगी है। इसके अलावा, लौंग में कई औषधीय गुण होते हैं। लौंग सिर दर्द, जुकाम और फ्लू के लिए रामबाण है। लौंग में कई गुण होते हैं और इसका उपयोग कई आहारों और मसालों में किया जाता है। लौंग भारत मे सबसे ज्यादा उगाया जाता है,और हमारे देश मे ही सबसे ज्यादा मांग है।

लौंग में लोहा, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, हाइड्रोक्लोरिक एसिड, विटामिन ए, विटामिन सी, मैंगनीज और फाइबर होते हैं। ये तत्व शरीर के लिए आवश्यक हैं। साथ ही लौंग एक प्राकृतिक दर्द निवारक है। यदि आप सिरदर्द से पीड़ित हैं, तो आपको कपड़ों को सूंघना चाहिए इससे आपकी बेचैनी कम हो जाती है। लौंग खाने वाले बनारसी पान में भी डालते है। इससे आपका पाचन अच्छा हो जाता है।

दांत दर्द के लिए भी लौंग रामबाण है। अगर आपको दांत में दर्द है, तो लौंग का तेल लगाने से दांत दर्द बंद हो जाएगा। यह अपने जीवाणुरोधी गुणों के कारण कई टूथपेस्ट में भी उपयोग किया जाता है। जोड़ों के दर्द और सूजन के लिए लौंग उपयोगी है। जोड़ों के दर्द के मामले में, लौंग के तेल के साथ अन्य तेलों के साथ मालिश करने से असुविधा कम हो जाती है।

सर्दी, खांसी, दमा, ब्रोंकाइटिस, साइनस की स्थिति में लौंग के तेल का उपयोग फायदेमंद है। अगर आपको पाचन संबंधी समस्याएं हैं, तो लौंग का उपयोग पाचन में सुधार करता है। आहार में लौंग को शामिल करने से अपच, मतली, दस्त और गैस कम हो जाती है। लौंग में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं और कई दवाओं में इसका उपयोग किया जाता है। लौंग शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। यह मधुमेह रोगियों को भी लाभ पहुंचाता है क्योंकि यह शरीर की शर्करा को नियंत्रित करने में मदद करता है।मधुमेह की रोगी रोजाना तीन लौंग जरूर खाये और अपनी शर्करा को कंट्रोल में रखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.