रोटी कैसे बदल सकती है आपकी किस्मत,जानिए

दिन की पहली रोटी का उपाय

याद रखें कि घर की रसोई में पहली रोटी सेंकने के बाद उसमें शुद्ध घी लगाकर चार टुकड़े कर लें और फिर उन चारों टुकड़ों पर खीर अथवा चीनी या गुड़ को भी रख लें। इसमें से एक को गाय को, दूसरे को कुत्ते को, तीसरे को कौवे को और चौथे को किसी भिखारी को दे दें। जान लें कि इस उपाय के तहत गाय को रोटी को खिलाने से पितृदोष दूर होगा, कुत्ते को रोटी खिलाने से शत्रुभय दूर होगा, कौवे को रोटी खिलाने से पितृदोष और कालसर्प दोष दूर होगा व अंतिम रोटी का टुकड़ा किसी गरीब या फिर भूखे को भोजन के साथ खिलाने से आर्थिक कष्ट दूर हो जाएंगे और आपके सारे बिगड़े काम भी बन जाएंगे।

रात की अंतिम रोटी का उपाय

अभी हमने बताया आपको दिन की पहली रोटी के बारे में और अब बताने जा रहे हैं रोटी के दूसरे उपाय के बारे में… क्या आपके जीवन में शनि ने फैला रखी हो सनसनी या फिर काम में राहु-केतु अटका रहे हैं रोड़ा तो रोटी का उपाय आपके लिए रामबाण साबित हो सकता है। ऐसी मान्यता है कि इन सभी ग्रहों की अशुभता को दूर करने के लिए रात के समय बनाई जाने वाली अंतिम रोटी पर सरसों का तेल लगाकार काले कुत्ते को खाने के लिए देना चाहिए। अगर काला कुत्ता न खाए या आपको ना दिखाई दे तो किसी दूसरे कुत्ते को खिलाकर इस उपाय को आप कर सकते हैं।

रोटी इनको बांटे और देखें चमत्कार!

हमारे देश में यह कहावत है कि “अतिथि देवो भव:” यानी कि अतिथि जो है वह देवता के समान होता है… इसलिए कहा जाता है कि भी आपको द्वार आए फिर चाहे वह कोई निर्धन या भिखारी ही क्यों ना हो आपसे जैसा हो सके पर उन्हें भोजन जरूर कराए। इसी प्रकार यदि भोजन के समय आपके यहां आए या जाने लगे तो उसे भी रोटी ज़रूर खिलाएं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *