लड़कियां रिश्ते में ज्यादा बहस और लड़ाई क्यों करती हैं, जानिए क्या है वजह

वैसे तो आप ने आम तौर पर सुना होगा कि लड़के भूत गुस्सा करते है। लेकिन कभी कभी कोई ऐसी बात अगर रिश्तों में हो जाती है कि लड़की उसको बहुत ही इमोशनली ले लेती है और फिर अपने पार्टनर पर पूरी तरह हावी हो जाती है और लड़ाई को किसी भी बहाने से स्टार्ट कर दिया करती है.

किसी भी संबंध में, इस रिश्ते को पूरा करने में लकड़ी की भूमिका महत्वपूर्ण है। लेकिन गर्लफ्रेंड की मौजूदगी में कोमल होना स्वाभाविक है, लेकिन कभी-कभी स्थिति यह भी आती है कि उस मुद्दे पर बहस करना असंभव है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ परिस्थितियों में गर्लफ्रेंड आप पर हावी हो जाती है।

लड़कियों का तर्क क्यों:

रिलेशनशिप में एक समय ऐसा आता है जब गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड की गलतियों की लिस्ट गिनना शुरू कर देती है। उस समय आप शायद ही कभी अपनी प्रेमिका के साथ जीते हों।

जब भावनात्मक की बात आती है, तो भगवान भी लड़कियों की भावनाओं के सामने हथियार डालते हैं, तो आप एक इंसान हैं। क्योंकि लड़कियों से बेहतर भावनात्मक ब्लैकमेलर कोई नहीं है।

फाइटिंग महिलाओं का पसंदीदा काम है खासकर लड़कियां हमेशा बॉयफ्रेंड के साथ लड़ाई के मौके तलाशती हैं।

यह तो सभी जानते हैं कि लड़कियों का सबसे बड़ा हथियार उनके आंसू होते हैं। लड़कियों के आंसुओं के सामने परमाणु बम भी फेल हो जाता है। जब लड़कियों को लगता है कि उनके हाथ बहस में लग रहे हैं और चीजें खराब हो रही हैं, तो वे अपने सबसे बड़े हथियार का इस्तेमाल करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads by Eonads
Translate »