लेमन ग्रास क्या है?

लेमनग्रास, जिसे सिट्रोनेला भी कहा जाता है, एक लंबा, डंठल वाला घास का पौधा है। इसमें एक ताज़ा, हल्का सुगंध और निम्बू जैसा स्वाद होता है।लेमनग्रास भारत और श्रीलंका जैसे उष्णकटिबंधीय एशियाई देशों में पाया जाता है। ताजी सूखी लेमन ग्रास बाजारों में भी आसानी से मिल जाती हैं।

लेमन ग्रास की चाय अधिकतर घरों में बनाई जाती है। एक चम्‍मच लेमन ग्रास को १ कप पानी में १० मिनट खौलाना है। अदरक या शहद मिक्‍स कर इसका स्‍वाद और उपयोगिता बढ़ाई जा सकती हैं।

लेमन ग्रास टी सेहत के लिये लाभकारी मानी गई है। इसमें स्थित ७५ प्रतिशत सिट्रल के कारण इससे नींबू की सुगंध आती है I

लेमन ग्रास की पत्तियों के साथ इसके आयल में भी अनेक औषधीय गुण होते हैं।

औषधीय फायदे:

लेमन ग्रास विटामिन ए और सी, फोलेट, फोलिक एसिड, मैग्‍नीशियम, जिंक, कॉपर, आयरन, पोटैशियम, फास्‍फोरस, कैल्‍शियम और मैगनीज़ से भरपूर्ण होती है। यह एंटीबैक्‍टीरियल, एंटीफंगल, कैंसर विरोधी, एंटीडिप्रेसेंट गुणों से भरी होती है।

शरीर डिटॉक्‍स करने का यह एक बेहतरीन तरीक़ा है lलेमन ग्रास विषैले पदार्थ पेशाबद्वारा बाहर निकालता हैं। इससे किडनी, लिवर, ब्‍लैडर और पैनक्रियाज़ की भी सफाई होती है।लेमन ग्रास पाचन में मदत करती है l

इसमें एंटीसेप्‍टिक कंपाउंड होते हैं जो कि पेट के बैक्‍टीरिया और पैरासाइट को मारते हैं और अच्‍छे बैक्‍टीरिया की पैदावार बढ़ाते हैं। इसे पीने से कब्‍ज, हार्ट बर्न, डायरिया, अपच, पेट फूलने, पेट दर्द और मतली आदि नहीं होती।

पेट के अल्सर में भी फायदेमंद है lयह एंटीबैक्‍टीरियल है, जिससे सर्दी, जुखाम और बुख़ार और इनके बदनदर्द, सिर दर्द आदि लक्षणों से राहत मिलती है।

इसमें विटामिन सी भी होता है जो इम्युन सिस्‍टम मजबूत बनाता है और शरीर को बीमारियाों से बचाने में सहायता करता है।

एंटी-इंफ्लेमेटरी और दर्द निवारक गुणों की वजह से यह आर्थराइटिस से संबन्‍धित जोड़ों के दर्द से राहत दिलाती है। मासपेशियों की एठन और स्‍प्रेन में भी आराम देती है। इसके लिए लेमन ग्रास तेल की कुछ बूंदों से प्रभावित जगह पर मसाज करे l

रोजाना एक कप लेमन ग्रास चाय पीने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रखने में मदत होती है l

दिन में दो बार लेमन ग्रास टी पीना मासिक धर्म के समय होनेवाली ऐंठन से राहत देता है l स्‍तनपान करवानेवाली महिलाएं दिन में दो कप लेमन ग्रास टी पी सकती हैं। इससे उनका दूध बढ़ने में मदत होती है। इससे बच्‍चे भी संक्रमण से बचे रहेंगे और स्‍वस्‍थ रहेंगे।

लेमन ग्रास में एंटीडिप्रेसेंट गुण है जो दिमाग को शांत कर डिप्रेशन से बचाने में उपयुक्त हैं। इसमें सीडेटिव (Sedative) गुण होते हैं, जो अच्छी नींद के लिए फायदेमंद है। लेमन ग्रास टी खराब मूड को सुधारने का आसान और स्वादिष्ट तरीका है। लेमन ग्रास तेल की कुछ बूंदें डिफ्यूजर में डाल कर उससे अरोमाथेरेपी ले सकते हैं।

त्वचा खास कर ऑइली स्‍किन के लिए लेमन ग्रास विशेष लाभदायक है l पत्ती में पाये जानेवाले आर्गेनिक यौगिक के वजह से यह एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल होता है। यह बैक्टीरिया और संक्रमण रोककर मुहांसे, फुंसियों और चकत्ते को दूर करने में मदत करता है।

लेमन ग्रास का अधिक मात्रा में सेवन करने से चक्कर आना,अधिक भूख लगना, मुंह सूखना, अधिक पेशाब आना, थकान जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.