वह कौन सरदारजी हैं, जो 45 किलो की तथा 600 मीटर लम्बी पगड़ी अपने सर पर बांधते हैं?,जानिए इसके पीछे की वजह

गुरुगोविंद सिंह महाराज के 350वें प्रकाशोत्सव पर देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं के बीच बाबा अवतार सिंह मौनी आकर्षण का केंद्र होंगे। खासतौर से बाबा की पगड़ी व अनूठा अंदाज लोगों के लिए कौतूहल का विषय रहेगा। पटियाला के रहने वाले बाबा अवतार सिंह मौनी का नाम गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। 45 किलो से अधिक होता है पगड़ी का वजन…

– 60 साल से अधिक उम्र के बाबा निहंग हैं। वे 600 मीटर से ज्यादा कपड़े से बनी पगड़ी पहनते हैं, जिसका वजन 100 पौंड यानी 45 किलो से अधिक होता है।

– बाबा अवतार सिंह की पगड़ी ही उनकी पहचान है। पगड़ी पहनकर बाबा बुलेट चलाते हैं।

– उन्हें जानने वाले सरदार रंजीत सिंह ने कहा कि वे सिखों की अलग पहचान बरकरार रखने और धर्म का प्रचार करने के लिए यह सब कर रहे हैं।

पांच घंटे से अधिक समय लगता है पगड़ी बांधने में

– बाबा अवतार सिंह पिछले 16 वर्षों से इतनी भारी पगड़ी अपने सिर पर बांधकर चल रहे हैं। उनके अनुसार उन्हें पगड़ी बांधने में 5 घंटे से अधिक समय लग जाता है।

– बड़ी पगड़ी के कारण वे कार में नहीं बैठ पाते, इसलिए वे धार्मिक यात्राएं मोटरसाइकिल से करते हैं। साधारण लंबाई-चौड़ाई के दरवाजों के भीतर प्रवेश करने में भी उन्हें काफी दिक्कत आती है।

– लेकिन, बाबा अवतार सिंह अपनी पगड़ी को बोझ नहीं मानते। वे जब बाजार में निकलते हैं, तो लोग आश्चर्य से देखते हैं।

– भारी-भरकम पगड़ी और उस पर सजे आभूषण लोगों के आकर्षण का केंद्र बन जाते हैं। देखते ही लोग उनके साथ फोटो खिंचाने को बेताब हो जाते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.