शहद सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है, जानिए इसके चौंका देने वाले फायदे

शहद का उपयोग प्राचीन काल से किया जाता रहा है। इसमें कई पोषक तत्व होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। शहद का उपयोग आयुर्वेद में औषधि के रूप में किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार, शहद में पाए जाने वाले औषधीय गुण कई बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। शहद के नियमित सेवन से वजन घटाने में भी मदद मिलती है। शहद हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और दिल से जुड़ी बीमारियों से बचाता है। शहद लेने से अनिद्रा, खांसी, मधुमेह और पेट संबंधी रोगों में भी राहत मिलती है। आज के लेख में, हम आपको बताएंगे कि शहद का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद साबित हो सकता है –

प्राकृतिक ऊर्जा बढ़ाने वाला

शहद को एक ऊर्जा भोजन माना जाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट, फ्रुक्टोज, ग्लूकोज, आयरन, पोटेशियम और कैल्शियम जैसे कई पोषक तत्व होते हैं। शहद में मौजूद ग्लूकोज तुरंत शरीर में अवशोषित हो जाता है, जिससे शरीर को तुरंत ऊर्जा मिलती है। शहद का सेवन करने से शरीर को दिनभर के काम के लिए ऊर्जा मिलती है और थकान महसूस नहीं होती है।

खांसी में प्रभावी

खांसी को ठीक करने के लिए दादी और नानी के समय से ही शहद का उपयोग किया जाता रहा है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़कर खांसी से राहत दिलाते हैं। एक शोध के अनुसार, रोजाना 2 चम्मच शहद खाने से खांसी में राहत मिलती है। आप चाहें तो अदरक के साथ शहद मिलाकर भी खा सकते हैं। इससे खांसी से जल्दी राहत मिलेगी।

हृदय रोग की रोकथाम

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि शहद में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट दिल की बीमारियों से बचाते हैं। शहद का सेवन करने से रक्त में पॉलीफेनिक एंटीऑक्सीडेंट का स्तर बढ़ जाता है, जो दिल से संबंधित बीमारियों से बचाता है।

अनिद्रा की समस्या में लाभकारी

अगर आप नींद नहीं ले पा रहे हैं, तो शहद का सेवन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, शहद के सेवन से शरीर में सेरोटोनिन नामक रसायन रिलीज होता है, जो मूड को बेहतर बनाता है। हमारा शरीर इस सेरोटोनिन रसायन को मेलाटोनिन हार्मोन में परिवर्तित करता है, जिससे बेहतर नींद आती है। अगर आपको अनिद्रा है या नींद नहीं आती है, तो रात को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध शहद में मिलाकर पीएं। इससे अनिद्रा दूर होगी और नींद में सुधार होगा।

प्रतिरक्षा बढ़ाने में सहायक

शहद के नियमित सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाते हैं, जो शरीर को कई प्रकार के संक्रमणों से लड़ने में मदद करता है।

वजन कम करने में फायदेमंद

मोटापा कम करने के लिए भी शहद का उपयोग किया जाता है। आपने अक्सर देखा या सुना होगा कि जो लोग वजन कम करना चाहते हैं वे सुबह खाली पेट गर्म पानी में शहद और नींबू मिलाकर पीते हैं। एक शोध के अनुसार शहद भूख को नियंत्रित करता है जो वजन कम करने में मदद करता है। शहद के सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर भी नियंत्रण में रहता है। आप चाहें तो अपनी चाय, कॉफी या जूस में चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं, इससे शरीर से वसा कम करने में मदद मिलेगी। एक शोध में यह भी पाया गया है कि रात को सोने से पहले शहद का सेवन करने से अधिक कैलोरी बर्न होती है।

चोट या जलन के कारण प्रभावी

 शहद में कई जीवाणुरोधी और विरोधी भड़काऊ गुण होते हैं जैसे कि फ्लेवोनोइड्स, फेनोलिक एसिड और लसोज़ाइम जो घाव को जल्दी से ठीक करते हैं। इसके साथ ही शहद में कई एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो चोट या जलन के कारण त्वचा को संक्रमण से बचाते हैं और जली हुई त्वचा को जल्दी ठीक करते हैं। घाव क्षेत्र या जले हुए स्थान पर सीधे शहद लगाएं।

पेट की समस्याओं से राहत मिलेगी

शहद लेने से पेट से संबंधित समस्या जैसे कब्ज, गैस और पेट फूलना में राहत मिलती है। शहद शरीर में फ्रुक्टोज फोड़ा को कम करता है और कब्ज और गैस जैसी पेट की समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। रोज रात को सोने से पहले एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से कब्ज से राहत मिलती है।

मधुमेह को नियंत्रित करता है

शहद का सेवन मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद करता है। एक शोध में पाया गया है कि शहद में मौजूद एंटीडायबिटिक और हाइपोग्लाइसेमिक गुण रक्त में मौजूद ग्लूकोज के स्तर को कम करते हैं, जो मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद करता है। मधुमेह के रोगी डॉक्टर की सलाह पर दवा के रूप में नियमित रूप से शहद ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.