शादी के 9 साल बाद विवाहिता महिला को पता चला कि वह है एक पुरुष उसके बाद जो हुआ

कोई इन्सान औरत है या मर्द यह तो उसको देखकर
ही पता लगाया जा सकता है, यदि किसी इन्सान की आवाज भी
महिलाओं जैसी हो और वह दिखती भी एक महिला जैसी ही हो तो
फिर किसी को भी उसके महिला होने पर जरा भी शक ना होगा।


लेकिन पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले की एक औरत जो कि पिछले
30 सालों से महिलाओं वाली जिन्दगी जी रही थी उसे यह भनक
भी ना थी कि एक दिन उसके पैरों तले ज़मीन खिसक जायेगी जब
उसे पता चलेगा कि वह औरत नहीं बल्कि एक पुरूष है।


शादी के 9 साल बाद जब उसकी नाभि के नीचे उसे दर्द महसूस हुई
तो उसे कोलकाता के नेताजी सुभाष चन्द्र बोस कैंसर हॉस्पिटल ले
जाया गया जहां डॉक्टरों ने बताया कि असल में वह औरत नहीं
बल्कि पुरूष है।


डॉक्टर के मुताबिक उसकी नाभि के नीचे दर्द की वजह एक ट्यूमर
है जो कि एक कैंसर है, इसका पता तब चला जब मरीज की
बायोप्सी जांच करवायी गयी। मरीज का अंडकोष शरीर के अंदर ही
विकसित हो गया था और यही अंडकोष एक ट्यूमर के रूप में उभर
आया।
महिला के शरीर में जन्म से ही ना तो अंडाशय है और ना ही


गर्भाशय और उसे माहावारी भी नहीं आती। उसकी आवाज तो
महिलाओं जैसी है और वह दिखती भी एक औरत की ही तरह है
लेकिन इन सभी कमियों की वजह से डॉक्टरों ने उसे एक पुरूष
घोषित किया है। हालांकि उसमें योनि तो है लेकिन वो विकसित
होने के बाद ही खत्म हो गयी थी यानी उसमें एक समान्य योनी जैसी

कोई बात नहीं थी। डॉक्टर के मुताबिक मरीज के कुछ रिश्तेदारों का
अतीत भी इसी महिला की तरह गुजरा है तो शायद यह परेशानी
नेनेरिक टो।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *