शाहरुख खान की यह सुपरफ्लॉप फिल्म दर्शकों के लिए बन गई सर का दर्द

Spread the love

शाहरुख खान को फिल्म जगत में किंग खान के नाम से जानते हैं लेकिन उनकी एक फिल्म दर्शकों के लिए सर का दर्द बन गई थी जिसकी कहानी किसी भी दर्शक के पल्ले नहीं पड़ी लोग इस फिल्म को देखकर खुब पछताये। यह फिल्म दो फिल्म को एक साथ देखने जैसा था। मतलब अगर हम कहे तो फिल्म कि खिचड़ी हो गई थी। इस लेख में हम आपको बतायेंगे की आखिर यह फिल्म इस तरह से बेकार क्यो हो गई।

इस फिल्म का नाम था ये लम्हे जुदाई के और इस फिल्म के लेखक थे अनिरुद्ध तिवारी और इसका निर्माण शुरू हुआ था 1994 में फिल्म की शुटिंग शुरू हो चुकी थी लेकिन बाद में फिल्म की शुटिंग रोक दी गई थी।

फिल्म लगभग आधा से ज्यादा बन चुकी थी बाद में इसके आगे की शुटिंग को लेकर फिल्म के कलाकार शाहरुख खान और रवीना टंडन से बात की गई मगर उन्होंने फिल्म पर अब काम करने से मना कर दिया यहां तक की फिल्म की डबिंग के लिए भी वह तैयार नहीं हुए।

बाद में करीब दस साल बाद सन 2004 में इसके आगे की शुटिंग के बारे में सोचा गया और इस बार आगे की कहानी को बदलना पड़ा और अब इसमें नये कलाकार रश्मि देसाई और अमित कुमार नजर आये किसी तरह से फिल्म बनकर तैयार हुई इस फिल्म का पुराना नाम था जादू जिसे अब बदलकर ये लम्हे जुदाई के नाम देकर रिलीज किया गया। फिल्म को देखकर दर्शकों को दर्शक को ऐसा लगता की हमने एक साथ दो अलग अलग फिल्में देख ली। इसकी कहानी किसी के समझ से परे था अगर यह फिल्म रिलीज न होती तो बेहतर था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *