शाहिद कपूर अपने सौतेले पिता का उपनाम अपने नाम के साथ क्यों लिखते हैं ? जानिए आप भी

बॉलिवुड के प्रतिभाशाली अभिनेता शाहिद कपूर जिन्हें प्यार से लोग साशा भी बुलाते हैं, आइए आज जानें उनकी कुछ ऐसी मजेदार बातें जो रील नहीं रियल लाइफ का हिस्सा हैं।

तीन- तीन बाप

पंकज कपूर और नीलिमा अज़ीम ने 1979 में शादी की, शाहिद कपूर के जन्म के 3 साल बाद ही इनका तलाक हो गया । पंकज कपूर ने नीलिमा के बाद सुप्रिया पाठक से शादी रचा ली, जिनसे उन्हें दो बच्चे रुहान और सना हैं।

वहीं दूसरी तरफ नीलिमा ने राजेश खट्टर से 1990 में दूसरी शादी की और उनसे उन्हें ईशान पैदा हुआ। पर 2001 में इनका तलाक हो गया तब राजेश खट्टर ने वंदना सजनानी से विवाह कर लिया।

शाहिद के काफी विरोध के बावजूद उनकी मां ने उस्ताद रजा अली खान से तीसरी शादी कर ली, हालांकि रजा अली खां की भी ये तीसरी शादी थी। उस्ताद रजा अली खान की दूसरी पत्नी के विरोध के बाद यह शादी भी टूट गई।

ध्यान देने वाली बात यह है कि शाहिद और ईशान खट्टर के पिता अलग- अलग हैं लेकिन दोनों भाइयों के बीच काफी अच्छे रिश्ते हैं । और इसकी एक वजह राजेश खट्टर भी हैं क्योंकि उन्होंने शाहिद के पालन पोषण के लिए काफी वक्त दिया है और उनमें और ईशान में कोई फर्क नहीं किया । इन्हीं  वजह से शाहिद कपूर के पासपोर्ट पर  शाहिद खट्टर नाम अंकित है। पंकज कपूर से रिश्ते खराब रहने और राजेश खट्टर द्वारा पिता का भरपूर प्यार मिलने के वजह से उनका एक नाम शाहिद खट्टर जाना जाता है। 

मीरा शाहिद से 13 साल छोटी हैं। फलस्वरूप एज गैप और उनके लव अफेयर्स को देखते हुए उन्होंने शाहिद से शादी करने से मना कर दिया था। उस वक्त शाहिद 34 के थे और मीरा 21 कीं।

नसरुद्दीन शाह शाहिद कपूर के मौसा लगते हैं।

फिल्म शानदार में इनके पिता पंकज कपूर ससुर के रोल में और

बहन सन्ना साली के रोल में नजर आई थी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *