हल्दी वाले दूध का सेवन किसे नहीं करना चाहिए?

अगर पित्त की थैली में स्टोन है तो हल्दी वाला दूध नहीं पीना चाहिए।

ब्लीडिंग प्रॉब्लम है तो हल्दी वाला दूध नुकसान पहुंचा सकता है। यह ब्लड क्लॉटिंग की प्रक्रिया को कम कर देता है जिससे ब्लीडिंग की समस्या ओर बढ़ सकती है।

गर्भावस्था में हल्दी को दूध में मिलाकर नहीं पीना चाहिए, इससे गर्भाशय का संकुचन, गर्भाशय में रक्त स्रव या गर्भाशय में ऐंठन पैदा हो सकती है।

हल्दी में एक रासायनिक पदार्थ करक्यूमिन पाया जाता है, जो ब्लड शुगर को प्रभवित करता है। ऐसे में अगर आपको मधुमेह है तो हल्दी वाला दूध पीने से परहेज करना चाहिए।

यदि लीवर से जुड़ी कोई समस्या या फिर लीवर बढ़ा हुआ है, तो हल्दी के दूध का सेवन बिल्कुल भी न करें,क्योंकि इससे आपको लीवर में समस्या उत्पन्न हो सकती है।

हल्दी, टेस्टोस्टेरॉन के स्तर को कम कर देती हैं। इससे स्पर्म की सक्रियता में कमी आ जाती है। अगर आप अपनी फैमिली प्लान कर रहे हैं तो कोशिश कीजिए कि हल्दी वाले दूध का सेवन न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.