सोने से भी कीमती है उबली हुई चायपत्ती, गलती से भी ना फेंके

Boiled tea leaves are more valuable than gold, do not throw them by mistake

प्रकति से हमें कई चीजे वरदान स्वरूप मिली है. जेसे वनस्पति, पेड-पोधे, वायु, जल आदि. लेकिन देनिक उपयोग में आने वाली कई चीजों का इस्तेमाल करना हम भूल जाते है, या फिर कहे की हमें उनकी जानकारी नहीं होती है. आज हम आपको हर व्यक्ति के देनिक उपयोग में आने वाली चाय पत्ती के फायदे बताएँगे जिनसे आप अनजान थे.

हर इंसान सुबह चाय पीना पसंद करता है. चाय पीने से शरीर में एनर्जी आती है. हर व्यक्ति अपनी जरूरत के अनुसार चाय का सेवन करता हैं. अधिकतर देखा जता है की चाय बनाने के बाद हम उबली हुई चायपत्ती को फेंक देते हैं, क्योंकि हमें लगता है अब उसका कोई इस्तेमाल नहीं है, लेकिन ऐसा नहीं है.

उबली हुई चायपत्ती के एक नहीं अनेकों फायदे है, जिनके बारे में हमें जानकारी नहीं है. आज हम आपको उबली हुई चायपत्ती के फायदों के बारे में बताने वाले हैं. जो हमारे देनिक कामो में बहुत फायदेमंद चीज है.

जख्मों को भरने के लिए :-

उबली चाय चायपत्ती में एक ऐसा गुणकारी तत्व पाया जाता है जो व्यक्ति के बड़े से बड़े घाव को भर देता है. यदि आपके शरीर पर घाव हो गया है तो अप उबली हुई चाय पत्ती लगा ले. आपका घाव जल्द ठीक हो जायेगा.

शीशे चमकाने के लिए :-

घर में लगे फनीचर या किसी शीशे पर दाग है तो चायपत्ती को अच्छे से उबाल लें और उस पानी को स्प्रे बोतल में भरकर शीशे को साफ करे. देखिएगा आपके घर का शीशा चमकने लगेगा.

पौधे की खाद :-

हर किसी को घर में पौधा लगाना अच्छा लगता है. उन पोधो की देखभाल करना भी जरुरी होता है. समय पर खाद पानी मिलता रहे तो वह कभी मुरझाता नहीं है. इस स्थिति में यदि आप उबली चायपत्ती का इस्तेमाल खाद के रूप में करेंगे तो पौधे स्वस्थ रहने के साथ जल्दी बढ़ने लगेगे.

फर्नीचर को करें साफ :-

फर्नीचर साफ करने के लिए भी हम उबली हुई चायपत्ती का इस्तेमाल कर सकते है. फर्नीचर साफ करने के लिए चायपत्ती कोदो बार अच्छी तरह से धो लें, फिर उस पानी से फर्नीचर को साफ करें.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *