लॉकडाउन में बनी दुल्हन, अनलॉक में उठी अर्थी, ऐसे रहे शादी के 10 दिन

रायबरेली. अर्थी पर लेटी दुल्हन के हाथों से मेंहदी का रंग भी नही उतरा था कि उसे मौत की गहरी नींद सुला दिया। ऐसा घिनौना कृत्य करने वाले कोई दुश्मन या बाहरी व्यक्ति नही थे बल्कि उसका पति जिससे मोहब्बत करके वो उसकी हुई थी। लाकडाउन में संजोए सपने पूरे हुए थे और वो शादी के बंधन में बंधी थी। लेकिन उसे क्या पता था कि दस दिन के बाद ये सपने चकनाचूर हो जाएंगे।

नवविवाहिता स्वाति सिंह के साथ कुछ ऐसा ही हुआ और जिसने भी इस घटना को सुना वो धक से हो गया। जानकारी के अनुसार घटना जिले के हरचंदपुर थाना क्षेत्र के डिडौली गांव की है। जहां दस दिन पूर्व जिस घर में नवविवाहिता दुल्हन बनकर आई थी आज उसी घर के अंदर कमरे में जब फांसी के फंदे पर विवाहिता का झूलता हुआ शव मिला तो गांव में हड़कम्प मच गया।

पुलिस के अनुसार 24 मई को हरचंदपुर थाना क्षेत्र की घोंसरी गांव निवासी स्वाति सिंह की शादी इसी थाना क्षेत्र के डिडौली गांव निवासी धीरज सिंह के साथ हुई थी। पिछले कई सालों से दोनो के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था। बीती 24 मई को दोनो परिवार की सहमति से शादी कर दी गयी थी। शादी के अभी 10 दिन
भी नही बीते थे कि स्वाति सिंह का शव उनके ही ससुराल के पिछले कमरे फांसी के फंदे पर लटका मिला।

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.