इस गांव में किया जाता है मगरमच्छ का अंतिम संस्कार वजह जानकर हो जाएंगे आप हैरान

Crocodile cremation is done in this village, you will be surprised to know the reason

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि दुनिया में ऐसी बहुत सारी अजीब चीजें होती हैं जिसे पढ़कर और सुनकर हैरान हो जाते होंगे। आज हम आपको एक ऐसे ही अजीबोगरीब परंपरा के बारे में बताएंगे जहां पर मगरमच्छ के मरने पर उसका अंतिम संस्कार किया जाता है वहां ऐसा क्यों किया जाता है और क्या परंपरा है हम बताने वाले हैं तो चलिए आपको उसके बारे में बताते हैं.

दोस्तों हम बात कर रहे हैं भारत के राज्य छत्तीसगढ़ के बारे में जहां पर मगरमच्छ का अंतिम संस्कार किया जाता है. आपको बता दें कि गाँव के तालाब में एक मगरमच्छ करीब 130 सालों से रह रहा था । न किसी को मारता न नुकसान पहुंचाता।

गाँव वाले उसे दाल चांवल खाने देते थे लोग उसके बाजू से तैराकी करते थे , उसे गंगाराम बुलाते थे , जब उसकी स्वाभाविक मौत हुई तो पूरे गाँव ने उसका अंतिम संस्कार किया

लोगों का कहना है कि हमारे बच्चे उस तालाब में नहाते थे लेकिन वह मगरमच्छ उन्हें कुछ नहीं कहता था बल्कि वह भी उनके साथ खेलता था और उन्हें कभी उसने हानि नहीं पहुंचाई और वह उस मगरमच्छ को अपने परिवार की तरह मानते हैं अब वह मर गया है तो पूरे गाँव ने उसका अंतिम संस्कार किया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *