भूलकर भी ये लोग न करें करौंदा के जूस का सेवन

आंवला सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। इसे अंग्रेजी में क्रैनबेरी के नाम से भी जाना जाता है। यह बहुत ही खट्टा फल है। चुकंदर विटामिन सी, केई के साथ-साथ प्रोटीन, लोहा, कैल्शियम, पोटेशियम और जस्ता में समृद्ध है। इसके अलावा, इसमें एंटीऑक्सिडेंट गुण हैं। यह कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने के साथ-साथ आपकी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। लेकिन आप में से कई लोग यह जानकर हैरान होंगे कि आंवले का रस कुछ के लिए हानिकारक साबित होता है।

 आंवले के रस के नियमित सेवन से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और मूत्र मार्ग में संक्रमण, सूखी खांसी, दस्त, पेट दर्द, बुखार और पेट दर्द जैसी समस्याएं दूर होती हैं। ज्ञात रहे कि किसी भी व्यक्ति को बड़ी मात्रा में आंवले के रस का सेवन नहीं करना चाहिए।

 आंवले के रस के साइड इफेक्ट्स

 एलर्जी का कारण बनता है

 आंवला सैलिसिलिक एसिड में समृद्ध है, जो कभी-कभी एलर्जी का कारण बन सकता है। तो अगर आपको एलर्जी की बहुत समस्या है। इसलिए इसे कम मात्रा में लें।

 पेट फूलना

 आंवले में सूजन के लक्षण होते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह विटामिन बी 12 को अवशोषित करता है।

 मधुमेह

 आंवले के कुछ उत्पाद हैं। जिसमें चीनी का उपयोग मिठास को बाहर लाने के लिए किया जाता है। इस मामले में, इसे लेने से रक्त शर्करा बढ़ जाएगा।

 आंवले के नुकसान

 पेट का एसिड बनाना

 आंवले का रस विटामिन बी 12 को अवशोषित करके पेट का एसिड बनाता है। ऐसे में उन लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

 गुर्दे की पथरी

 आंवले में ऑक्सालेट नामक तत्व भरपूर मात्रा में पाया जाता है। मूत्र का स्तर 43 प्रतिशत बढ़ाता है। इससे पथरी की समस्या हो जाती है। इससे आपकी किडनी प्रभावित होती है।

 गठिया की समस्या

 आयुर्वेद के अनुसार, गठिया, गाउट, कटिस्नायुशूल और अल्सर वाले लोगों को आंवले नहीं खाने की सलाह दी जाती है।

 पाचन तंत्र

 इसी तरह के गुण आंवले के रस में पाए जाते हैं। इससे अधिक मात्रा के कारण आंत और पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *