जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाने का घरेलू इलाज ,जानिए कैसे

Home remedy to get rid of joint pain, know how

ज्यादातर लोगों में 40 की उम्र के बाद से ही जोड़ों के दर्द की शिकायत होने लगती है। ज्यादातर लोग इस दर्द कारण उम्र मानते हैं। लेकिन जोड़ों के दर्द और सूजन का कारण यूरिक एसिड का जमना होता है। हमारे शरीर के हड्डियों के जोड़ों में यूरिक एसिड होता है। ये हड्डियों को एक दूसरे से घिसने से बचाता है। पर शरीर में जब यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है तो ये जोड़ों के दर्द और सूजन का कारण बन जाता है। आज हम आपको जोड़ों के दर्द कारण और उससे निवारण बताने की कोशिश करेंगे।

जोड़ों के दर्द कारण- हमारे शरीर के जोड़ों में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाने पर जोड़ों में दर्द और सूजन होने लगता है। बाद में चलकर ये गठिया रोग में बदल जाता है। शरीर में यूरिक एसिड का लेवल 5 हो तो ठीक है लेकिन इससे ज्यादा होने पर उठने, बैठने चलने में परेशानी होने लगती है।

दर्द दूर करने के उपाय-

1) पानी- पानी हमारे शरीर से गन्दगी निकालने का काम करता है। 3-4 लीटर पानी पीना चाहिए। ऐसा करने से जोड़ों में जमा यूरिक एसिड मूत्र के माध्यम से शरीर से बाहर निकाल जाता है।

2) लोकी- लोकी शरीर में स्थित अतिरिक्त यूरिक एसिड को कम करने में सक्षम है। एक गिलास लोकी के रस में एक चम्मच आंवला चूर्ण और स्वाद अनुसार सेंधा नमक मिलाकर रोज सुबह खाली पेट सेवन करने से शरीर का अतिरिक्त यूरिक एसिड कुछ दिनों में ही कम हो जाता है। इसके कम हो जाने से जोड़ों में दर्द और सूजन कम होता जाता है।

3) ऐलोवेरा- जोड़ों के दर्द में ऐलोवेरा बहुत फायदेमंद होता है। ऐलोवेरा का रस साधारणतह बाजार में उपलब्ध होता है। लेकिन ताजा ऐलोवेरा का रस ज्यादा फायदेमंद होता है। ये पौधा बहुत आसानी से मिल जाता है। एक पत्ते लेकर इसे अच्छे से धो लें। पत्ते के सामने जो पीला तरल निकलता है उसे अलग कर लें। अब जेल को निकालकर उसमें गुनगुना गर्म पानी और एक चम्मच शहद मिलाकर रोज सुबह खाली पेट पीने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है।

4) अन्य- ज्यादा प्रोटीनयुक्त ,और कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार खाने से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है। अतः ऐसे चीजों का परहेज़ करें। जैसे आलू,घी,दाल,मांस आदि।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *