अगर आपके पास भी टू व्हीलर है तो इन पांच बातों का रखें खास ख्याल

यदि आपके पास एक बाइक या स्कूटर है और अक्सर आप ब्रेकडाउन के बीच में होते हैं, तो आज हम आपको बताएंगे कि ब्रेक डाउन से कैसे बचा जाए, क्योंकि अगर किसी सुनसान जगह पर बाइक या स्कूटर खराब हो जाता है, तो कई समस्याएं हैं। कर सकते हैं

एक भी सेवा याद मत करो

अपनी बाइक / स्कूटर की सेवा को नियमित करें, ताकि अगर कोई मामूली समस्या हो, तो आपको पहले से ही पता चल जाए। याद रखें कि सेवा हमेशा अधिकृत सेवा केंद्र में की जानी चाहिए। स्थानीय स्थान से सेवा से बचना चाहिए। सेवा के दौरान इंजन तेल को बदलना सबसे महत्वपूर्ण है, ताकि इंजन सुचारू रूप से चले। बाइक / स्कूटर के इंजन ऑयल की हर 1500-2000 किमी या जब तक इंजन ऑयल काला या काला न हो जाए, तब तक जांचने की कोशिश करें। बाइक चेन सेट की भी जांच करें।

एयर फिल्टर सफाई बहुत महत्वपूर्ण है

कार में एयर फिल्टर की सफाई बहुत महत्वपूर्ण है, अक्सर लोग इसे अनदेखा करते हैं, जिसके कारण यह इंजन के प्रदर्शन को प्रभावित करता है। इसलिए समय-समय पर एयर फिल्टर को साफ करना महत्वपूर्ण है।

नियमित रूप से स्पार्क प्लग की जाँच करें

अक्सर लोग इंजन में लगाई गई स्पार्क प्लग पर ध्यान नहीं देते हैं, जिसकी वजह से कई बार इंजन को स्टार्ट करने में दिक्कतें आती हैं। इसलिए, स्पार्क प्लग को 1500-2000 किमी पर प्रतिस्थापित किया जाना चाहिए।

बैटरी की जांच जरूरी है

समय-समय पर उनकी बैटरी की जांच करें, चाहे बाइक हो या स्कूटर। यह भी ध्यान दें कि बैटरी में कोई रिसाव नहीं है, यदि ऐसा है, तो इसे तुरंत ठीक करना बेहतर है।

टायर की देखभाल भी महत्वपूर्ण है

सप्ताह में एक बार अपनी बाइक या स्कूटर के दोनों टायरों में हवा के दबाव की जाँच अवश्य करें, कम या अधिक हवा के कारण वाहन का प्रदर्शन प्रभावित होता है। यही नहीं, समय-समय पर व्हील बैलेंसिंग करना भी फायदेमंद होता है। यदि टायर खराब हो गए हैं या वे फट गए हैं, तो उन्हें तुरंत बदल दिया जाना चाहिए।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *