जानिए फ्रॉस्टिंग हेयर कलर टेक्निक के बारे में

आपने सोच लिया है कि बालों पर बरगंडी कलर कराना है लेकिन, कन्फ्यूज्ड हैं कि यह अच्छा लगेगा या नहीं? फिर आपका मन बदल जाता है कि कौन-सी हेयर कलर टेक्निक कराएं? लो-लाइट्स, ग्लोबल, टेक्सचरड हाईलाइट्स बैलेज जैसी ढेरों हेयर कलर टेक्निक हैं, जिनको ट्राय करके आप अपने लुक को एकदम बदल सकते हैं।

ऑल-ओवर हेयर कलर
ऑल-ओवर हेयर कलर को “सिंगल-प्रोसेस” हेयर कलर भी कहा जाता है क्योंकि इसमें पूरे बालों में एक ही शेड लगाया जाता है। इस तरह का हेयर कलर उन लोगों के लिए सही रहता है जिनके पूरे ही बाल सफेद होते हैं।

डेमी परमानेंट हेयर कलर
बालों को कलर कराने का यह तरीका परमानेंट हेयर कलर की तुलना में कम केमिकल युक्त होता है। इनमें अमोनिया नहीं होता है और हाइड्रोजन पेरॉक्साइड की मात्रा भी कम होती है।

फ्रॉस्टिंग
यह हेयर कलर टेक्निक छोटे बालों पर खूब जमती है। इसमें बालों के टिप्स को सिर्फ ब्लीच किया जाता है। अमूमन, बालों के मौजूदा रंग से दो तीन शेड हल्का रंग बालों को दिया जाता है। वहीं, कुछ डिफरेंट लुक के लिए आप सिर्फ बालों के बेस पर भी फ्रॉस्टिंग कर सकते हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *