जानिए आई कैंसर के कारण और इलाज

आई कैंसर आंख के आउटर पार्ट जैसे कि आईलिड को प्रभावित करता है। अगर कैंसर आईबॉल के अंदर पाया जाता है तो इसे इंट्राऑकुलर कैंसर कहते हैं। बच्चों में कैंसर के लक्षण दिख सकते हैं। बच्चों में सबसे कॉमन आई कैंसर रेटीनोब्लास्टोमा है, जो कि रेटीना की सेल्स से शुरू होता है। आई कैंसर आंख के साथ ही पूरे शरीर में भी फैल सकता है। अगर आपको आई कैंसर के बारे में जानकारी नहीं है तो ये आर्टिकल पढ़ें और जाने कि आई कैंसर कितने प्रकार का होता है।

watching see you GIF by Feliks Tomasz Konczakowski

आई कैंसर के कारण
मेलेनोमा आई कैंसर का कोई स्पष्ट कारण नहीं है। डॉक्टर्स का मानना है कि आई कैंसर तब होता है जब डीएनए में किसी भी प्रकार की कमी आती है और सेल्स हेल्दी सेल्स प्रभावित होने लगती हैं। म्युटेशन के बाद सेल्स तेजी से अपनी संख्या बढ़ाने लगती हैं।

आंख के कैंसर के इलाज

सर्जन छोटे मेलेनोमा वाली परत के कुछ हिस्सों को हटा देगा जो आंख के अन्य भागों में नहीं फैलते हैं।

इरिडोसाइक्लिटॉमी
इस सर्जरी में डॉक्टर आईरिस और सिलिअरी बॉडी के हिस्से को हटा देता है।सिलिअरी बॉडी में रक्त वाहिकाएं होती हैं। ये आंख के वाइट और रेटीना के बीच की पतली परत होती है।

इन्युक्लिएशन
इस स्थिति में सर्जन पूरी आंख निकाल सकता है। इस सर्जरी की जरूरत तब पड़ती है जब ट्यूमर बहुत बड़ा हो जाता है। ऐसे में किसी और ट्रीटमेंट को अपनाया नहीं जा सकता है। ट्रीटमेंट के बाद आंख का अधिकतर हिस्से का लॉस हो जाता है। जिन लोगों को ट्यूमर की वजह से आंख में दर्द होता है, उनके लिए भी ये प्रोसीजर अपनाया जा सकता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *