जानिए किडनी ट्रांसप्लांट के बाद व्यक्ति कब तक जीवित रह सकता है?

डॉक्टर्स के मुताबिक, किडनी ट्रांसप्लांट के लिए या तो मृत व्यक्ति की किडनी का इस्तेमाल किया जाता है या फिर जीवित व्यक्ति की किडनी का इस्तेमाल किया जाता है। दोनों ही स्थितियों में किडनी कैसे कार्य करेगी यह ट्रांसप्लांट कराने वाले व्यक्ति के आहार और जीवनशैली पर निर्भर कर सकता है।

हालांकि, दोनों ही स्थितियां किसी भी व्यक्ति को एक लॉगटर्म सुरक्षित जीवन देने में मददगार होती हैं, लेकिन एक्सपर्ट्स की मानें तो जीवित व्यक्ति द्वारा प्राप्त की गई किडनी ट्रांसप्लांट का विकल्प ज्यादा सुरक्षित माना जाता है।

अगर मृत व्यक्ति द्वारा प्राप्त किडनी ट्रांसप्लांट की जाती है, तो संभावित जीवनकाल 8 से 12 साल या उससे अधिक समय तक का हो सकता है.

वहीं अगर किसी जीवित व्यक्ति द्वारा प्राप्त किडनी ट्रांसप्लांट की जाए, तो संभावित जीवनकाल 12 से 20 साल या उससे अधिक समय तक का हो सकता है। हालांकि, दोनों ही प्रक्रिया डायलिसिस के मुकाबले काफी सुरक्षित, सफल और लाभकारी होती हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *