जानिए इस जानवर के ‘मस्तक’ पर ‘ पाए जाते हैं सींग

यह जानवर ‘जिराफ’ प्रजाति का है। परंतु, जहां जिराफ 6 मीटर तक लंबा होता है। इसकी ऊंचाई डेढ़ से ढाई मीटर ऊंची होती है । और वजन 200 से 350 किलोग्राम तक होता है। देखने में यह ‘जेब्रा’ से भी मिलता-जुलता लगता है। क्योंकि, इसके शरीर के कुछ भाग पर सफेद-काली धारियां पाई जाती है।

इसका नाम “ओकापी” है। परंतु, सामान्यतः इसको कई नामों से पुकारा जाता है; जैसे वन जिराफ,कांगो जिराफ, जेब्रा जिराफ आदि। यह ‘कांगो’ देश का मूलनिवासी माना जाता है। इसके अलावा मध्य अफ्रीका में भी पाया जाता है। यह घने जंगलों में 1600 से 5000 फीट की ऊंचाई पर रहते हैं। यह प्राय: एकांत प्रिय प्राणी होते हैं।

इन जानवरों की ‘जीभ’, इतनी लंबी होती है कि, अपनी जीभ से, ये अपनी ‘आंखें’ तथा ‘कान’ साफ कर लेते हैं।
इन जानवरों में एक अन्य विशेषता भी पाई जाती है जो, सामान्यतः दूसरे जानवरों में नहीं मिलती है । सामान्य जानवरों के सिर पर दो ‘सींग’ पाए जाते हैं। परंतु, ‘ओकापी के सिर पर सींग नहीं पाए जाते हैं। बल्कि इसमें, ‘नर’ के ‘माथे’ पर दो सींग पाए जाते हैं।
मादा के मस्तक पर सींग नहीं पाए जाते हैं।
इस श्रेणी के सामान्य जानवर, प्रायः 9 माह का गर्भ धारण करते हैं। परंतु, ‘ओकापी’ कि मादा, 15 माह का गर्भ धारण करती है। यह विशेषता भी ने अपनी श्रेणी में अलग छवि प्रदान करती है।

ओकापी शाकाहारी होते हैं तथा पेड़ की पत्तियां कलियां घास फल कवच इत्यादि खाते हैं। यह कई पौधों की उन पर जातियों को भी खाते हैं जो मनुष्य के लिए जहरीली मानी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.