जानिए बालों के झड़ने का सबसे बड़ा कारण बनती है ये गल्तियां

आज के समय में बालों के झड़ने की समस्या से हर तीसरा इंसान परेशान है। बालों की मजबूती बनी रहे इसके लिये लोग ना जाने क्या-क्या उपाय करते हैं लेकिन इनके परिणाम ना के बराबर ही देखने को मिलते है। बालों के झड़ने का सबसे बड़ा कारण हमारे द्वारा की जाने वाली वो छोटी से बड़ी गल्तियां है जिसे हम अनजाने में कर जाते है। और यही गल्ती आपके बालों को डैमेज बनाने में मदद करती हैं। इसी के कारण बाल कमजोर होकर टूटने लगते हैं। चलिए आज हम आपको बताते हैं बालों में की जाने वाली वो गल्तियों के बारें में जो आपके बालों के झड़ने का कारण बनती है।

तौलिए से न रगड़ें

अक्सर लड़कियां बाल को धोने के बाद उन्हें सुखाने के लिए तौलिए का इस्तेमाल करती है। और बालों को रगड़कर साफ करती है जिससे बाल का जड़ें कमजोर हो जाते हैं। यदि आप भी इस प्रकार से बालों को सुखाती है तो आज ही अपनी इस आदत को बदल दें। तौलिए को बालों पर रखकर दबाकर पानी सुखाएं। इससे बालों का सारा पानी तौलिए में आ जाएगा और बाल टूटेगें भी नहीं।

ना करें कंघी

अक्सर देखा जाता है कि बालों को धोने के बाद महिलाएं गीले बालों में ही कंघी चलाने लगती हैं। जोकि बालों की सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है। सूखे बालों के अपेक्षा गीले बाल ज्यादा कमजोर होते हैं इसलिए गीले बालों पर कंघी करते समय अनसुलझे बालों पर जोर पड़ने से वह जड़ से उखड़ जाते हैं और इससे बालों की स्ट्रेंथ भी घटने लगती है।

गीले बालों को बांधना

जिस तरह से लड़कियां गीले बालों पर कंघी करना सही नही है उसी तरह सेगीलें बालों को बांधना भी सही नही है। इससे भी आपके बालों की जड़े कमजोर हो जाते हैं और बाल टूटकर गिरने लगते हैं।

ड्रायर का ज्यादा इस्तेमाल

गीलें बालों को जल्द सुखाने के लिये अक्सर महिलाये ड्रायर का उपयोग करती है जिसकी गर्म हवा बालों के प्रोटीन को पूरी तरह से खत्म करने में मदद करती है, जो बालों के झड़ने की सबसे बड़ी वजह बनती है। साथ ही यह स्प्लिट एंड्स, डिहाइड्रेशन और ब्रेक्जिट का कारण बन सकता है। ऐसे में हेयरफॉल से बचना है तो बालों को नेचुरल तरीके से सुखाएं और ड्रायर का इस्तेमाल ना करें।

रोजाना शैंपू करना

रोजना बालों को साफ करने के लिये शैंपू का उपयोग करने से भी बालों की जड़ें कमजोर हो जाती हैं। इससे बाल ना सिर्फ टूटने लगते हैं बल्कि वह ड्राई व फ्रिजी भी हो जाते हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *