जानिए स्किन के लिए गुलाब जल के फायदे

चेहरे पर निखार बनाए रखने के लिए लोग गुलाब जल पर भरोसा करते हैं। गुलाब जल के फायदे न केवल त्वचा को तरोताजा करते है बल्कि त्वचा की खूबसूरती को कई गुना बढ़ा देते है। गुलाब जल का प्रयोग त्वचा को स्वस्थ और खूबसूरत दिखाने के लिए सदियों से किया जा रहा है। आयुर्वेद में भी गुलाब जल का बहुत महत्व है, इसके गुणों के कारण ही आज गुलाब जल का उपयोग लगभग हर ब्यूटी प्रोडक्ट्स में इस्तेमाल किया जा रहा है। गुलाब जल को लगाने से न केवल आपकी त्वचा में निखार आता है, बल्कि चेहरे पर दिखने वाले कील-मुंहासे, डार्क सर्कल्स, रैशेज, फाइन लाइन्स, रिंकल्स आदि की समस्या से भी जल्द छुटकारा मिलता है। वैसे तो लोग इसे बाजार से खरीदते हैं, लेकिन आप चाहें तो इसे घर में ही बनाकर कई तरह से इसका उपयोग कर सकते हैं।

गुलाब जल एक सुगंधित तरल पदार्थ है, जो गुलाब की पंखुड़ियों से बनाया जाता है। यह हमारी त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद है। इससे त्वचा का पीएच संतुलित रहता है, साथ ही यह त्वचा की सफाई करने के लिए भी बहुत अच्छा नेचुरल टोनर, मॉइस्चराइजर और क्लींजर है। इसे लगाने से त्वचा से संबंधित सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं और चेहरा गुलाब सा खिल उठता है। गुलाब जल को चेहरे पर मलने से ठंडक मिलती है और थकान भी दूर होती है।

त्वचा के लिए गुलाब जल के फायदे –
क्या आप जानतें हैं गुलाब जल को हर भारतीय घर में जगह क्यों मिली है? ऐसा इसलिए है क्योंकि गुलाब जल के लाभ बहुत ही अधिक हैं क्योंकि यह निस्संदेह सौंदर्य की जादुई औषधि है, और उल्लेखनीय रूप से बहुमुखी भी है। चाहे आपकी त्वचा तैलीय, सूखी या मिश्रित हो, गुलाब जल को आपके सौंदर्य उत्पाद में जोड़ा जा सकता है। यही बात इसे भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में महिलाओं के लिए एक सौंदर्य रहस्य या गुप्त हथियार बनाती है।

गुलाब की पंखुड़ियों को पानी में डुबो कर गुलाब जल तैयार किया जाता है। कभी-कभी, गुलाब के तेल को निकालने की प्रक्रिया का एक उप-उत्पाद भी गुलाब जल के स्थान पर उपयोग किया जाता है। गुलाब जल के कई लाभ हैं जो इसे व्यंजनों और धार्मिक अनुष्ठानों में एक लोकप्रिय घटक बनाते हैं। गुलाब जल के दो सबसे प्रसिद्ध उपयोग त्वचा के लिए गुलाब जल और चेहरे के लिए गुलाब जल हैं।

त्वचा के लिए गुलाब जल के फायदे त्वचा का पीएच संतुलन बनाए रखे –
गुलाब जल आपकी त्वचा का पीएच संतुलन बनाए रखने में मदद करता है। वैज्ञानिकों की मानें तो त्वचा का पीएच 4.5 से 6.2 के बीच में होता है। लेकिन जब हम साबुन या अन्य किसी केमिकल युक्त उत्पाद का इस्तेमाल अपने चेहरे पर करते हैं, तो यह पीएच संतुलन को बाधित कर सकता है, जिसके कारण बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं और इससे चेहरे पर मुंहासों की समस्या भी उत्पन्न हो जाती है। ऐसे में चेहरे की त्वचा रूखी और बेजान नजर आती है। गुलाब जल 5.5 के पीएच स्तर के साथ आपकी त्वचा के पीएच लेवल को सामान्य पर लाकर आपकी त्वचा की खोई रौनक वापस लौटाने में मदद करता है।

कील मुंहासों में फायदेमंद गुलाब जल –
प्रदूषण के कारण चेहरे पर कील मुंहासे उभरना आम बात है। भले ही क्रीम या अन्य कॉस्मेटिक प्रोडक्ट के इस्तेमाल से ये ठीक हो जाते हैं, लेकिन इनके निशान लंबे समय तक आपके चेहरे पर बने रहते हैं। ऐसी स्थिति में
गुलाब जल सबसे सस्ता और सरल घरेलू उपाय माना जाता है। क्योंकि यह आपके चेहरे से अतिरिक्त तेल को हटाने में मदद करता है। साथ ही अपनी पीएच प्रॉपर्टीज के कारण मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता है।

1 टेबलस्पून गुलाब जल के साथ 1 चम्मच नींबू का रस मिलाएं, इसे मुहांसों वाली त्वचा पर लगाएं और 30 मिनट तक रहने दें। ताजे पानी से धोएं और लाभ प्राप्त करें।

आप मुल्तानी मिट्टी का फेसपैक भी लगा सकते हैं और इसे गुलाब जल के साथ मिला सकते हैं। एक बार जब यह सूख जाए तो इसे धो लें। यह छिद्रों को साफ करने, अतिरिक्त तेल को नियंत्रित करने और मुँहासे को रोकने में मदद करता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *