जानिए प्रेगनेंसी में यीस्ट इंफेक्शन से बचने के घरेलू उपाय

  1. एप्पल साइडर सिरका
    एप्पल साइडर सिरका नेचर में अम्लीय होता है। जो प्रेग्नेंसी में यीस्ट इंफेक्शन के संक्रमण वाले फंगस को मारने में मदद करता है। एप्पल साइडर सिरका में एंजाइम भी होते हैं जो इन कवक को रोकते हैं। ये वजायना में खुजली और इंफेक्शन को बढ़ने से रोकता है।
  2. लहसुन
    लहसुन हर घर में इस्तेमाल किया जाने वाला औषधीय गुणों से भरपूर एक हर्बल है। जिसका इस्तेमाल हमारे घरों में सब्जी आदि बनाने में किया जाता है। प्रेग्नेंसी में यीस्ट इंफेक्शन होने पर वजायना में खुजली से लड़ने के लिए यह कारगर साबित होता है। लहसुन कैंडिडा को खत्म करने में सहायक होता है। लहसुन इस प्रकार की समस्या से लड़ने में मदद करता है।
  3. दही के सेवन
    प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के वजायना में खुजली और इंफेक्शन के इलाज के लिए दही एक अच्छा उपाय हो सकता है। दही में एसिडोफिलस एलिमेंट्स होती हैं जो अच्छे बैक्टीरिया के विकास को प्रोत्साहित करता है। यह प्रेग्नेंसी में यीस्ट इंफेक्शन के कारण खुजली और अन्य सूक्ष्म जीवों से लड़ने में मदद करता है।
  4. नारियल का तेल इस्तेमाल करें और प्रेग्नेंसी में यीस्ट इंफेक्शन से बचें
    नारियल के तेल में एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं जिसके कारण वजायना में खुजली होने और प्रेग्नेंसी में यीस्ट इंफेक्शन होने में यह बहुत ही अच्छा घरेलू उपाय माना जाता है।
  5. क्रैनबेरी
    क्रैनबेरी में अर्बुटिन नाम का योगिक मौजूद होता है जो कैंडिडा एल्बिकन्स क्रैनबेरी योनि में खुजली और इंफेक्शन के लिए एक बहुत ही प्रभावी उपाय माना जाता है। इनमें अर्बुटिन नामक एक यौगिक होता है जो कैंडिडा एल्बिकन्स को मारने में मदद करता है। क्रैनबेरी की गोलियां या कैप्सूल के इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श कर लें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *