जानिए लेग प्रेस व्यायाम करने का सही तरीका

शरीर की संपूर्ण शक्ति और विकास के लिए हर अंग का व्यायाम आवश्यक होता है। आम तौर पर देखने को मिलता है कुछ ही अंगों के व्यायामों को हम पूरा मान लेते हैं। ऐसे ही पुश-अप्स और स्क्वाट्स को ही मुख्य व्यायाम के तौर पर जाना जाता है। लेग प्रेस मशीन पर पैरों से धकेलने वाला ‘लेग प्रेस व्यायाम’ भी कई मायनों में काफी फायदेमंद होता है। पैरों को शक्ति देने वाला यह व्यायाम अधिकांश जिमों में उपलब्ध मशीन के साथ किया जा सकता है।

लेग प्रेस व्यायाम को स्क्वाट प्रेस और सिटेड लेग प्रेस के रूप में भी जाना जाता है। यह व्यायाम देखने में आसान लग सकता है ,​लेकिन पैरों की मांसपेशियों को सक्रिय करने और मजबूत बनाने में यह काफी प्रभावी हो सकता है। जांघों की हैमस्ट्रिंग और क्वाड्रिसेप जैसी बड़ी मांसपेशियों को मजबूत बनाने और उन्हें संतुलित आकार देने में लेग प्रेस व्यायाम काफी फायदेमंद है।

लेग प्रेस व्यायाम, वेटेड बारबेल स्क्वाट की तरह ही होता है जो क्वाड्रिसेप्स या जांघ के सामने की मांसपेशियों को मजबूती देता है। बारबेल स्क्वैट्स व्यायाम कई मामलों में कठिन होता है। कंधे पर भारी वजन उठाकर किए जाने वाले बारबेल स्क्वाट्स व्यायाम को अगर सही तकनीक के साथ नहीं किया जाए तो इससे पीठ, कंधे या घुटनों में दर्द जैसी समस्या भी पैदा हो सकती है । लेग प्रेस व्यायाम में वर्कआउट इंजरी यानी चोट लगने का जोखिम भी कम होता है। इतना ही नहीं अगर आपको पहले पैरों में किसी प्रकार से चोट लग चुकी है फिर भी इस व्यायाम को करके आप मांसपेशियों को प्रभावी ढंग शक्तिशाली और सुसंगठित बना सकते हैं।

लेग प्रेस व्यायाम करने का सही तरीका – Leg press exercise ka sahi tareeka
अन्य व्यायामों की तरह ही लेग प्रेस व्यायाम करने से पहले भी वार्म-अप करना बहुत आवश्यक होता है। वार्म-अप के रूप में आप हल्के व्यायाम, बॉडीवेट स्क्वाट्स, लंजेस जैसे व्यायाम कर सकते हैं।

किन मांसपेशियों पर होता है असर

क्वाड्रिसेप्स (जांघों के सामने की मांसपेशियां)
हैमस्ट्रिंग (जांघों के पीछे की मांसपेशियां)
ग्लूट्स (नितंब की मांसपेशियां)
पिंडलियां

कैसे करें यह व्यायाम

सबसे पहले अपनी क्षमता के अनुसार मशीन पर वजन सेट करें।
लेग प्रेस मशीन की सीट पर लेट जाएं और अपने पैरों को कंधे की चौड़ाई के बराबर पैड पर रखें। इस दौरान घुटने को मोड़ कर रखें।
अपनी एड़ी की मदद से प्लेट पर धक्का लगाएं और पैरों को पूरी तरह सीधा होने से पहले ही कुछ सेकेंड के लिए रुकें।
अब धीरे-धीरे अपने घुटनों को मोड़ते हुए प्रारंभिक स्थिति में आएं। यह एक रैप है।
टिप्स : अगर आप व्यायाम के दौरान हैमस्ट्रिंग मांसपेशियों को लक्षित करना चाहते हैं, तो अपने पैरों को प्लेट पर थोड़ा ऊपर की ओर सेट करें। वही यदि आप पिंडलियों पर अधिक दबाव चाहते हैं तो अपने पैर की उंगलियों को प्लेट पर नीचे की ओर रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.