जानिये फ्लर्ट करने से पहले जान लें ये फ्लर्टिंग रूल्स!

यदि आप सोचती हैं कि आप आसानी से किसी लड़के को अपनी ओर आकर्षित कर सकती हैं, तो ऐसा सोचना गलत हैं। इसके लिए जरूरी होता है फ्लर्टिंग आना। फ्लर्टिंग भी इस तरह की करें कि सामने वाले के गलत साबित ना हो। और इतना कम भी ना करें कि आपके प्यार के बारें में वो समझ ही ना पायें।। बैसे तो ये सच है लड़कियों की खूबसूरत आंखे हर मर्द की कमजोरी होती है । इसलिये लड़कियां इसका उपयोग बहुत ही बख़ूबी से करती हैं । आंखों का टिमटिमाना उन्हें मासूम बना देता है। ऐसे ही आज हम आपको फ्लर्ट करने के कुछ तरीकों के बारें में बता रहे है जिसे अजमाकर आप अपने दिल की बात अपने पार्टनर तक पहुचा सकते है।

मेसेज के द्वारा फ्लर्ट करना
मेसेज के द्वारा आप अपने विचारों कों आप लिखकर अपने दिल की बातों से अवगत करा सकते है पर ये जितना फायदेमंद है उतना नुकसानदायक भी।

फायदें

कुछ बातें है जो आप अपने पार्टनर के समाने रहकर पूरी तरह से जाहिर नही कर पाते। क्योकि उस दौरान आपको डर लगा रहता है कि शायद वो आपकी बातों को ठुकरा देगा तो क्या होगा? जिससे आप उन्हे मेसेज के द्वारा लिखकर बता सकते है। इससे उसके ठुकराने पर आपको उतना दर्द नही होगा जितना सामने रहकर हो सकता है।

नुकसान
टेक्स मेसेज पर लिखे गये विचार से नुकसान यह होता है कि मेसेज लिखते समय आप अपने दिल की बात तो लिख सकते है पर आपके भावों को वह यदि नही समझ पाया तो वह इसे अस्वीकृत भी कर सकता है। जिससे आपको काफी कष्ट हो सकता है। क्योकि आमने सामने बोलने पर आपके चेहरे के भाव को असानी के पढ़ा जा सकता है। कि आप क्या कहना चाहते है। यदि वो इन बातों को इग्नोर करता है, तो फिर आप समझ ही जाएंगी, कि उसे शायद इस सब में कोई इन्टरेस्ट नहीं।

फ्लर्टिंग

टेक्स मेसेज पर भेजने का तरीका:
क्या आप रोमानी अंदाज को मजा लेना चाहते हैं?
तुम बहुत क्यूट हो..।
मै कुछ सीक्रेट बताना चाहती हूं।
क्या तुम मुझे मिस करते हो?
क्या तुम एक साथ आइसक्रीम खाना पसंद करोगे?
क्या मुझसे बातचीत करना पसंद करोगे?
तुम इतने अच्छें कैसे हो?
अपनी भावनाओं को समझाने का सबसे खास तरीका:
मै शब्दों के द्वारा नही बता सकती कि आप मेरे लिये क्या हो।
आप लाखों में एक हो।
आपके जैसा कोई और नहीं है
मुझे नहीं पता कि तुम मेरे बिना क्या कर रहे हो
तुम मेरी आँखों का तारा हो
तुम्हारें साथ मेरी एक अच्छी जोड़ी बन सकती है।
जब हम साथ होते हैं तो पता ही नही चल पाता कि कैसे बीत गया।
इस प्रकार से लिखकर बताये कि किस तरह आप उसको पसंद करती है:
मै मिलने का बारें में नही जानती। पर हर शब्दों में मै तुम्हें अपने पास ही महसूस करती हूं। जब भी मै अपनी चेहरा शीशे में देखती हूं हर जगह तुम ही तुम नजर आते है

मेरे पास कहने के कुछ नही है तब भी मै तुम्हें लिखकर बता रही हूं कि तुम मेरे लिये क्या हो।
जब भी मै तुम्हें देखती हूं तो मेरे भीतर एक अलग सी सिहरन होने लगती है।
मै तुम्हें और करीब से जानना चाहती हूं।
मै तुम्हारें साथ पाकर बहुत खुशी महसूस करती हूं।
तुम्हारें बगैर मेरी नींद नही आती है।
आप सुबह से लेकर शाम तक मेरे दिलोदिमाग में छाये रहते हो।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *