जानिए कौन थी महाभारत में कर्ण की दूसरी पत्नी

Know who was Karna's second wife in Mahabharata

सूर्या पुत्र कर्ण सूत कबीले की एक और महिला से विवाह किया था। उसका नाम सुप्रिया था और वह भानुमती की (दुर्योधन की पत्नी) दोस्त थी।

यद्यपि यह ज्ञात नहीं है कि वृक्षकेतु की मां कौन थी। वृक्षकेतु कर्ण का आठवा पुत्र है और कर्ण का एकमात्र जीवित बेटा जो कुरुक्षेत्र युद्ध में अपनी कम उम्र की वजह से भाग नहीं ले पाया था। एक कथा के अनुसार वृक्षकेतु सुप्रिया का बेटा था।

महाभारत युद्ध समाप्त होने के बाद पांडवों ने कर्ण के बेटे वृक्षकेतु को अपने साथ ले लिया और उसको प्रशिक्षित किया और उसकी देखभाल की गई।

वृक्षकेतु अर्जुन और कृष्णा के बहुत प्रिय थे। वृक्षकेतु अपने अभियान में भी अपने चाचा अर्जुन के साथ रहे थे। लेकिन महाभारत युद्ध के बाद कर्ण की दूसरी पत्नी का क्या हुआ था उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिलती है।

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *