Microsoft की इस डील के बाद क्या इंडिया में फिर से शुरू हो जायेगा टिक टॉक

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने माइक्रोसॉफ्ट के CAO सत्य नडेला को साफ- साफ बता दिया है कि अगर टिक टॉक को माइक्रोसॉफ्ट नहीं खरीदना है तो हम इसे अमेरिका में बैन करने जा रहे हैं इस पर माइक्रोसॉफ्ट के भारतीय मूल के सीएओ से बात करते हुए यह जानकारी दी है उसके लिए माइक्रोसॉफ्ट के सीएओ ने कुछ वक्त मांगा है।

अमेरिका के राष्ट्रपति ने माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ को साफ कह दिया कि वह 15 सितंबर तक टिक टॉक को खरीद ले नहीं तो वह इसे अमेरिका में बैन कर देंगे।

अब मूल सवाल यह है कि क्या माइक्रोसॉफ्ट टिक टॉक खरीदेगा तो क्या टिक टॉक भारत में शुरू हो जाएगा इस डील में भारत के लिए कुछ भी नहीं है, हालाकि कुछ बड़े एक्सपर्ट का कहना हैं कि भारत को बड़े यूजर जैसे मार्केट को डील का हिस्सा क्यो नहीं बना रही है लेकिन हाल फिलहाल भारत की इस डील में सामिल नहीं किया है ।

 माइक्रोसॉफ्ट टिक टॉक खरीदेगा तो उसे 50 बिलियन डॉलर देने होंगे जोकि एक बहुत बड़ी राशि मानी जा रही है टिप टॉक एक पॉपुलर होने के कारण इसे माइक्रोसॉफ्ट बहुत ही बड़ी राशि देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.