ATM से कैश निकालने पर देना होगा ज्यादा चार्ज, लागू हुवा नया नियम

दोस्तों आपको बता दे की भारतीय ATM ऑपरेटर्स एसोसिएशन ने रिजर्व बैंक को एक लेटर लिखकर ग्राहकों द्वारा ATM से कैश विड्रा करने पर इंटरचेंज फीस बढ़ाने की मांग की है. ATM ऑपरेटर्स एसोसिएशन का कहना है कि अगर RBI इंटरचेंज फीस बढ़ाने की अनुमति नहीं देता है तो इससे उनके कारोबार पर बुरा असर पड़ेगा.

वर्तमान में, भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ATM से कैश विड्रॉल पर इंटरचेंज फीस को 15 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन रखा गया है. यह चार्ज प्रति ग्राहक प्रति महीने 5 ट्रांजैक्शन के बाद लगता है.

दोस्तों उल्लेखनीय है कि पिछले साल ही RBI ने उच्चस्तरीय कमिटी का गठन किया ​था. इस कमिटी की जिम्मेदारी थी कि वो ये बताए कि देश में ATM की संख्या को कैसे बढ़ाया जाएगा और सुदूर जगहों पर ATM का पहुंच कैसे बढ़े. दिसंबर महीने में ही इस कमिटी ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी थी. 6 सदस्यीय इस कमेटी की जो प्रमुख सुझाव था, उसमें कहा गया था कि इंटरचेंज को बढ़ाया जाए. इकोनॉमिक टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले यह बात कही है.

ग्रामीण क्षेत्रों और अर्ध-शहरी क्षेत्रों के लिए सुझाव में कहा गया है कि जहां की आबादी 10 लाख से कम है, वहां इंटरचेंज चार्ज को बढ़ाकर 18 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन कर दिया जाए. 18 रुपये का चार्ज फाइनेंशियल चार्ज और 8 रुपये नॉन-फाइनेंशियल चार्ज के तौर पर 8 रुपये वसूला जाए. वहीं, फ्री ट्रांजैक्शन की लिमिट को 6 कर दिया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *