सिर्फ इन राशन कार्डधारकों को ही मिलेगा फ्री में राशन, इन लोगों को देने होंगें

कोरोना वॉयरस जैसी महामारी में पेट भरने के लिए राशन वितरण की प्रक्रिया एक अप्रैल से शुरू होगी। वहीं सरकार का कहना है कि सारे उपभोक्ताओं को नि:शुल्क राशन नहीं दिया जायेगा। यह लाभ सिर्फ अन्त्योदय कार्डधारकों को मिलेगा।

दूसरे कार्डधारकों को संबंधित कोटेदार को निर्धारित शुल्क देना होगा। प्राथमिकता के आधार पर हर कार्डधारक को 35 किलोग्राम प्रति परिवार की दर से नि:शुल्क राशन दिया जाएगा।

5 किलो प्रति यूनिट से मिलेगा राशन-

मनरेगा जॉब कार्डधारकों, श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिक व नगर निगम में दर्ज मजदूर भी अंत्योदय की श्रेणी में हैं। इन परिवारों को अप्रैल में पांच किलो प्रति यूनिट की दर से खाद्यान्न मिलेगा।

ग्रामीण इलाकों में सबंधित ग्राम विकास अधिकारी, लेखपाल को पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त किया है। नि:शुल्क बंटने वाले खाद्यान्न का कोटेदार अलग से रजिस्टर तैयार करेगा। डीएम के मुताबिक, जिनका राशन कार्ड नहीं है उनका नया कार्ड बनने के 2 महीने के बाद राशन मिलेगा।

राशन लेने से पहले कार्डधारकों को अपने हाथ साबुन से धोना पड़ेगा। उसके बाद ही ई-पॉश मशीन पर अंगूठा लगाकर राशन को प्राप्त कर सकेंगे। डीएम ने कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *