RBI ने रेपो रेट में 0.40% की कटौती की, कम होगा EMI का बोझ

The family brought the bags lying in the garbage, opened it, got 7.5 crores rupees, lost its senses, then whatever happened…

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना वायरस के वजह से लॉकडाउन के चलते अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान हुआ है।

MPC ने रेपो रेट में कटौती करने का फैसला किया है। शक्तिकांत दास ने कहा कि रेपो रेट 4.4% से घटाकर 4% कर दिया गया है। इससे लोगों पर लोन की ईएमआई का बोझ कम होगा। जबकि रिवर्स रेपो रेट को 3.75 फीसद से घटाकर 3.35 फीसद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि महंगाई दर अभी भी 4 फीसदी के नीचे रहने की संभावना है। लेकिन लॉकडाउन के वजह से कई सामानों की कीमत बढ़ सकती है।

आरबीआई ने लोन की किस्त (EMI) के भुगतान पर 3 महीने की अतिरिक्त छूट दे दी है। यानि अगर आप अगले 3 महीने तक अपने लोन की EMI नहीं देते हैं.तो बैंक आप पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं डालेगा।

EMI भुगतान में छूट को अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौरान आरबीआई ने रेपो रेट में दूसरी बार कटौती की है। इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर ने 0.75 फीसदी कटौती का ऐलान किया था।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *