The bride delivered the groom to the hospital in one night, the groom said, 'She came out very shameless

शादी से पहले दुल्हन ने रखी ऐसी शर्त, बेटी की जिद पर कार्ड पर छपवाना पड़ा यह मैसेज

जी हां दरअसल इस शादी में दूल्हन ने शादी से पहले अपने पिता से कुछ ऐसी डिमांड रख दी कि उनको पूरा करना ही पड़ा। ये तो सच है कि समाज में शराब के चलन को रोकने के लिए मातृशक्ति लगातार मुखर हो रही है। एक ओर जहां प्रदेशभर में शराब ठेकों के विरोध को महिलाएं लामबंद हैं तो वहीं शादी-समारोह के अवसर पर शराब परोसने की परंपरा को तोड़ने में वह अहम भूमिका निभा रही हैं।


ये बात तो आप सभी जानते ही होंगे कि आज के समय में बेटा हो या फिर बेटी हर कोई बराबर हो गया है, और तो और हमारे समाज में बेटियां इतनी जागरूक हो गई हैं कि वो काफी कुछ सोचती है। ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि आप खुद भी इस बात का अंदाजा ऐसे लगा सकते हैं कि कोटी बहेड़ा की एक बेटी ने अपनी शादी से पहले शादी के कार्ड पर अपने पिताजी से एक मैसेज छपवाने को कहा।

इस मैसेज को पढ़कर हर कोई बेटी को शाबाशी दे रहा है। तो अब आपके दिमाग में आ रहा होगा कि आखिर क्या है वो मैसेज, या ऐसा क्या उसमें लिखा गया था जिसकी वजह से लोग उन्हे शाबासी देने लगे।

अब बिना देर किए जानकारी के लिए बताते चलें कि जिस लड़की की शादी थी, दरअसल उस लड़की ने अपने पिताजी से अनुरोध किया कि कार्ड पर शादी में शराब न परोसने के बारे में भी एक संदेश होना चाहिए। हालांकि उसके पिताजी को या कुछ अटपटा लगा।

लेकिन उन्होंने अपनी बेटी की बात मान ली और उन्होंने उस कार्ड पर लिखवा दिया कि इस शादी में कॉकटेल पार्टी नहीं की जाएगी। दुल्हन ने यह तक कह दिया कि शराब परोसी गई तो वह शादी ही नहीं करेगी। जी हां और इस बात से हर कोई उनकी तारीफ कर रहा था।

जी हां ये बात सच है कि उस लड़की द्वारा उठाए गए इस कदम के बाद जो भी यह बात सुनता है। उसे शाबाशी देता है। इसके अलावा उस लड़की ने अन्य लड़कियों के लिए भी एक उदाहरण पेश किया है। साथ ही साथ अनुरोध किया है कि इस तरह के मामले में लड़कियां आगे आयें। समाज को नशा मुक्त बनाने में मदद करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.