दुनिया का सबसे बड़ा चर्च बना है हड्डियों से

आपको यह बात जानकर हैरानी हो सकती है कि दुनिया में एक चर्च ऐसा भी है जो मानव कंकाल और हड्डियों से निर्मित है। इस चर्च में 40 हजार से ज्यादा हड्डियों का इस्तेमाल किया गया है। इसे ‘चर्च ऑफ बोन्स’ भी कहा जाता है। यह इकलौता चर्च स्थित है चेक गणराज्य की राजधानी प्राग में।

इस चर्च का नाम सेडलेक ओसुरी है। ओसुरी शब्द का अनुवाद बैचेन होता है।

यूरोप के देश चेक गणराज्य की राजधानी प्राग में बने इस चर्च को देखने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं।

इसके पीछे कहानी है। कहा जाता है कि उस समय मानव सभ्यता को प्लेग की खतरनाक विभीषिका से जूझना पड़ा था। जिससे बड़ी संख्या में लोगों की जान चली गई थी। एक पुजारी ने मृत लोगों की हड्डियों को इकट्ठा कर चर्च का रूप दे दिया।

हाल ही में पुरात्वविदों ने इस चर्च में एक सामूहिक कब्र की खोज की है। शोधकर्ता अस्थियों पर मरम्मत कार्य करने के लिए कब्रिस्तान खुदाई कर रहे थे।

इस चर्च में मानव कंकाल से हर अंग की हड्डी का प्रयोग किया गया है। 13वी शताब्दी के लोगों का शव यहां दफनाए गए हैं, उस समय इस स्थान की मिट्टी की लोग बहुत पवित्र मानते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.