क्रिकेट मैच फिक्सिंग आरोपों पर बैन होने वाले यह है 5 खिलाड़ी

These 5 players are being banned on cricket match fixing allegations

1 मोहम्मद अजहरुद्दीन, पूर्व भारतीय कप्तान

अजहरुद्दीन की गिनती भारत के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों और कप्त्तानो में होती थी जब तक उनका नाम मैच फिक्सिंग मामलों में नहीं आया था | वन डे क्रिकेट में भी वे भारत के सफलतम कप्तानो में से एक रहे है क्यूंकि उनकी कप्तानी में भारत ने 103 मैच जीते थे | लेकिन हैन्सी क्रोनिए के इकबालिया बयान में अजहरुद्दीन का नाम आया जिसमे उन पर क्रोनिए को सट्टेबाजो से मिलवाने के आरोप लगे | भारत के केन्द्रीय जांच ब्यूरो ( सीबीआई) ने मामले की जांच शुरू की और अजहरुद्दीन से कई बार पूछताछ की गई | अजहरुद्दीन ने बाद में कुछ भी कबूल करने से इनकार किया था लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने उनपर पांच साल का प्रतिबन्ध लगा दिया था |

2 हैन्सी क्रोनिए

क्रोनिए को वर्ष 2000 में तीन साथी दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट खिलाड़ियों के साथ मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया था | शुरुवात में सभी आरोपों को नकारने के बाद उन्होंने मैच फिक्सिंग और बिचोलियों के साथ संपर्क की बात मानी थी | इसके तुरंत बाद जांच के दौरान क्रोनिए ने कई सनसनीखेज बातें भी बताई थी जिनसे कुछ क्रिकेटर और सट्टेबाजो के बीच होने वाले संपर्क के सुराग मिले थे | क्रिकेट से आजीवन प्रतिबंधित किये जाने के 2 वर्ष बाद उनकी मौत के विमान दुर्घटना में हो गई थी |

3 सलीम मलिक, पूर्व पाकिस्तानी कप्तान

इमरान खान के मुताबिक़ सलीम मलिक एक ऐसे अनुभवी बल्लेबाज़ थे जो दुनिया की किसी भी पिच पर किसी भी गेंदबाज़ को अपना विकेट ना देने की काबिलियत रखते थे | मिडिल आर्डर में बल्लेबाजी करने वाले मलिक ने खासतौर पर एशिया की पिचों पर गेंदबाजों के खूब छक्के लगाए | उनपर 2000 में साथी खिलाड़ियों को कथित तौर पर रिश्वत देने के गंभीर आरोप लगे और उसी वर्ष अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट से बैन होने वाले मलिक पहले खिलाड़ी बने | शुरुवात से अपने आप को निर्दोष बताने वाले मलिक के खिलाफ आरोप साबित नहीं हो पाए और उन पर लगा बैन हटा लिया गया, लेकिन उसके बाद उन्होंने क्रिकेट की तरफ कभी मुड़कर नहीं देखा |

4 मनोज प्रभाकर, पूर्व भारतीय आल राउंडर

मनोज प्रभाकर भारतीय क्रिकेट टीम में गेंदबाजी की शुरुवात करते थे और कम रन देने के लिए मशहूर थे | लेकिन 1995-96 में टीम से बाहर किए जाने के बाद ही उन्होंने अपने संन्यास की घोषणा कर दी थी | बाद में उन्होंने कपिल देव समेत कई भारतीय खिलाड़ियों पर मैच फिक्सिंग के गंभीर आरोप लगे थे जिनसे उनकी खुद की भी जांच हुई | जांच के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने उनपर भी 5 साल का प्रतिबन्ध लगा दिया |

5 अजय जडेजा , पूर्व भारतीय कप्तान

अजय जडेजा भारतीय क्रिकेट टीम के चहेतों नें गिने जाते थे क्यूंकि अजय अपने जमाने के क्रिकेट के बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक थे | उन्होंने कई बार भारतीय क्रिकेट टीम को मुश्किल समय से निकाला था | सीबीआई की जांच के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने उनपर भी पांच साल का प्रतिबन्ध लगा दिया था जिसे जडेजा ने बाद में चुनौती भी दी थी | हालांकि बाद में उन्हें घरेलु क्रिकेट खेलने की इजाज़त मिल गई थी और उन्होंने दिल्ली और राजस्थान की टीमों की कप्तानी भी की थी | जडेजा ने बाद में बॉलीवुड में भी अपना भाग्य आजमाने का प्रयास किया, लेकिन वहा वे सफल नहीं हो पाए | इन दिनों वे एक सफल क्रिकेट विश्लेषक है |

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *