गोमती चक्र के ये अद्भुत उपयोग सभी समस्याओं को करेंगे दूर

गोमती चक्र एक दुर्लभ प्राकृतिक और आध्यात्मिक पत्थर का पत्थर है। यह प्राकृतिक रूप से गोमती नदी में पाया जाता है। इसे भगवान कृष्ण के सुदर्शन चक्र का सूक्ष्म रूप माना जाता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए किया जाता है। यह एक गोल सफेद पत्थर का पत्थर होता है, जिसके एक हिस्से में गोल चक्र जैसी आकृति स्वाभाविक रूप से उभरती है, गोमती चक्र का एक हिस्सा एक खोल की तरह ऊंचा होता है, जबकि दूसरी तरफ एक चक्र होता है जो सर्प की तरह गोलाकार होता है। । इसलिए इसे नाग चक्र भी कहा जाता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, सिद्ध गोमती चक्र उन लोगों के लिए फायदेमंद होता है जिनकी कुंडली में शनग दोष या सर्पदोष होता है।

यह गोमती चक्र का उपयोग है

आजकल हर व्यक्ति अपने घरेलू या व्यावसायिक जीवन में कई समस्याओं से घिरा हुआ है। ऐसी समस्याओं को दूर करने में गोमती चक्र बहुत उपयोगी साबित होता है। यह सुरक्षा कवच का काम करता है।

सिद्ध गोमती चक्र वास्तु दोष को समाप्त करता है। 11 भवन की नींव में दक्षिण-पूर्व दिशा में गोमती चक्र को दबाने से वास्तु दोष के बुरे प्रभाव दूर होते हैं और घर वालों को दीर्घायु और समृद्धि का आशीर्वाद मिलता है।

सात सिद्ध गोमती चक्रों को लाल कपड़े में लपेटकर लॉकर या कैश बॉक्स में रखने से कभी भी धन की कमी नहीं होती है। बरकत बिजनेस में आता है। धन के साथ-साथ अच्छा स्वास्थ्य और समृद्धि भी प्राप्त होती है।

सिद्ध गोमती चक्र बच्चों की सुरक्षा के लिए एक प्रभावी तरीका माना जाता है। कई लोग ग्यारह सिद्ध गोमती चक्रों को लाल कपड़े में लपेट कर चावल या गेहूं के पात्र में भी रखते हैं। यह भोजन को कीड़ों से सुरक्षित रखता है।

घर में गोमती चक्र होने से सुख, समृद्धि, अच्छा स्वास्थ्य और धन के साथ नकारात्मक लाभ होता है।

गोमती चक्र का उपयोग एक उपकरण के रूप में भी किया जाता है।

शक्तियों से सुरक्षा है। यह व्यवसाय के विकास के लिए बेहतर है। इससे मन को शांति मिलती है। समाज में प्रतिष्ठा बढ़ती है।

गोमती चक्र का उपयोग एक यंत्र के रूप में भी किया जाता है। कई जैन साध्वी गोमती चक्र का उपयोग पूजा के दौरान एक विशेष उपकरण के रूप में करती हैं।

जिन महिलाओं का बार-बार गर्भपात होता है, उन्हें पांच सिद्ध गोमती चक्रों को लाल रंग में बांधकर अपनी कमर में बांधना चाहिए। इससे अजन्मे बच्चे की सुरक्षा होती है।

अगर आप कोर्ट / कोर्ट के मामले में फंसे हुए हैं, तो अपने दरवाजे के प्रवेश द्वार की ओर 11 सिद्ध गोमती चक्र रखें और सफलता पाने के लिए गोमती चक्र पर दाहिने पैर के साथ बाहर निकलें।

यदि आपके कई दुश्मन हैं, तो 21 गोमती चक्रों के साथ अपने दुश्मनों का नाम कागज पर लिखें और इसे जमीन पर दफन कर दें। इससे आप दुश्मनों को हराने में सक्षम होंगे।

यदि पति वैवाहिक मतभेदों में है, तो 11 सिद्ध गोमती चक्र को सफेद कपड़े में बांधकर घर की दक्षिण दिशा में फेंक दें, इससे मतभेद खत्म हो जाएंगे और वैवाहिक जीवन में प्रेम बढ़ेगा।

यदि व्यवसाय में तरक्की या नौकरी में तरक्की नहीं मिल रही है, तो शिव मंदिर में शिवलिंग पर पांच सिद्ध गोमती चक्र चढ़ाएं और अपने काम के लिए भगवान से प्रार्थना करें, कार्य सिद्ध हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.