ये छोटी सी गलतियां लड़कियों को बना देती है बाँझ

अगर आप गर्भधारण नहीं कर पा रही हैं, तो आप अकेली नहीं हैं. आज हर 7 में से 1 दंपती के साथ यह समस्या है. एक सामान्य धारणा है कि बांझपन महिलाओं की समस्या है, लेकिन बांझपन के हर 3 केस में से 1 का कारण पुरुष होता है. बांझपन के बारे में पता केवल तब नहीं चलता जब कोई दंपती काफी प्रयासों के बाद भी संतान सुख प्राप्त नहीं कर पाते, बल्कि कई लक्षण हैं जो बहुत पहले ही इस बारे में संकेत दे देते हैं.

जब एक महिला नियमित रूप से 12 महीने या इससे अधिक समय तक असुरक्षित संभोग करने के बाद भी प्रेग्नेंट होने में असमर्थ होती है, तो यह महिला बांझपन की स्थिति हो सकती है।

बांझपन के मुख्य कारणों में से एक है महिलाओं द्वारा अधिक उम्र में गर्भधारण की कोशिश करना और कई बार कुछ स्वास्थ्य स्थिति भी इनफर्टिलिटी के कारण हो सकती है।

कुछ महिलाओं को पीरियड्स के दौरान हल्के फ्लो का अनुभव होता है तो कई महिलाओं को लगातार पीरियड्स के दौरान हेवी ब्लीडिंग और ऐंठन का अनुभव होता है।

दर्दनाक और लंबी अवधि के पीरियड्स एंडोमेट्रियोसिसके लक्षण हो सकते हैं, एक ऐसी स्थिति जहां आमतौर पर गर्भ में पाए जाने वाले ऊतक शरीर में कहीं और मौजूद होते हैं। एंडोमेट्रियोसिस बांझपन के लिए एक जोखिम कारक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.