This is how Mumtaz died, Shah Jaha had remained in solitude for years

ऐसे हुई थी मुमताज की मौत, साल तक एकांत में रहे थे शाहजहा

17 जून 1631 में मुमताज की मौत हुई थी. जानकारी के अनुसार मुमताज की मौत शाहजहां के 14वें बच्चे को जन्म देते वक्त मध्य प्रदेश में हो गई थी. शाहजहां ने मुमताज की याद में ताजमहल का निर्माण करवाया था, जिसे बनने में करीब 20 साल लग गए थे.

मुमताज का जन्म 27 अप्रैल 1593 में आगरा में हुआ था, मुमताज का नाम अर्जुमंद बानो था. वह शाहजहां की मां नूरजहां की भतीजी थीं. कहा जाता है कि अर्जुमंद बानो शाहजहां को पहली नजर में ही पसंद आ गई थीं. जानकारी के अनुसार शाहजहां की सगाई मुमताज से 1607 में ही हुई थी, लेकिन शादी सगाई के पांच वर्ष बाद हुई.

कहा जाता है की दोस्तों के कहने पर शादी की तारीख 5 साल बाद की तय की गई थी, ताकि विवाहित जीवन में किसी तरह की कोई बाधा ना आए.
मुमताज की मौत के बाद शाहजहां टूट गए थे, उनकी मौत के बाद एक साल तक एकांत जगह पर रहे. मुमताज की मौत के एक साल बाद उनकी याद में ही शाहजहा ने ताजमहल का निर्माण करवाया था.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.