यह हैं, भारत के पाँच ‘सबसे गरीब शहर’, पढ़ें पूरी खबर

भारत को एक विकासशील देश माना जाता है। भारत की जनसंख्या विश्व की कुल जनसंख्या का 70% भाग है यानी दुनिया का हर छठवां इंसान भारत में रहता है। इतनी बड़ी आबादी होने के बावजूद भी भारत में शांति रहती है। एक बहुत बड़ी आबादी होने का मतलब गरीबी भी होता है। यदि किसी देश की बहुत बड़ी आबादी है तो उसमें से कुछ लोग गरीब जरूर होते हैं। यह केवल भारत के साथ ही नहीं है बल्कि दुनिया के कई और देश काफी समृद्ध होने के बावजूद भी एक ऐसा भाग रखते हैं जो उस देश से मेल नहीं खाते हैं।

आज हम भारत के उन पांच शहरों की चर्चा करने वाले हैं जो भारत में सबसे गरीब माने जाते हैं।

● धारावी स्लम्स के बारे में तो सभी लोग जानते ही होंगे। हमारे देश में यह इलाका महाराष्ट्र के मुंबई में है। इसे दुनिया का सबसे बड़ी स्लम बस्तियों में भी गिना जाता है। यह इलाका स्वास्थ्य और समृद्धि की दृष्टि से बहुत गरीब है। यदि संसार की सबसे बड़ी और गंदी स्लम बस्तियों की बात की जाए तो इस इलाके का नाम अवश्य आता है।

● बालसभा स्लम भी अपने आप में गरीबी के मामले में किसी से कम नहीं है। दिल्लीवासी तो बालसभा स्लम के बारे में जानते ही होंगे क्योंकि यह स्लम क्षेत्र दिल्ली में स्थित है। धारावी स्लम्स के बाद इसे भारत के सबसे गरीब शहरों में गिना जाता है।

● बसंती स्लम कोलकाता को भी भारत के सबसे गरीब शहरों में गिना जाता है। यह क्षेत्र कोलकाता का एक भाग है। यहाँ पर रहने वाले 90% से अधिक लोग गरीब हैं।

● राजेंद्र नगर स्लम को भी भारत के सबसे गरीब स्लम क्षेत्रों में गिना जाता है। इस क्षेत्र में भी जीवनस्तर और समृद्धता की भारी कमी है।

● सरोज नगर स्लम को भी भारत के सबसे गरीब शहरों में गिना जाता है। यह इलाका नागपुर के पास पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.