यह है, दुनिया का “सबसे छोटा बंदर” !

यह है, दुनिया का सबसे छोटा बंदर ! यह बंदर ब्राजील, कोलंबिया, इक्वाडोर जैसे वर्षा वन में पाया जाता है।

पैगी मार्मोसेट दुनिया का सबसे छोटा बंदर होता है। इसके शरीर का आकार 15 से 20 सेंटीमीटर होता है। उनके शरीर के बराबरी लगभग लंबी पूछ होती है। इनकी लंबी पूछ छलांग मारते समय, शारीरिक संतुलन में मदद करती है।वजन मात्र 140 ग्राम के लगभग होता है।

इसकी भी कई प्रकार की प्रजातियां पाई जाती है। अपने रंग रूप और वैरायटी में यह भी बहुत ज्यादा समृद्ध हैं। जिनका एहसास लिख के साथ में दिए गए चित्रों को देखकर आप कर सकते हैं।

इनके पंजे विशेष रूप से पेड़ों पर चढ़ने और रहने के अनुकूल होते हैं। क्योंकि लगभग हर समय एक ‘पेड़-पौधों’ पर ही निवास करते हैं।

यह सर्वाहारी होते हैं। अर्थात फल, पत्ते, कीड़े-मकोड़े और कभी कभी छोटे सरीसृप का भोजन भी करते हैं। परंतु, इनका सबसे पसंदीदा भोजन पेड़ों पर पाया जाने वाला ‘गोंद’ होता है।

यह छोटे बंदर पेड़ों पर उछलने-कूदने व तेज गति से भागने में समर्थ होते हैं। यह पेड़ों के कोमल शीर्ष पर, आसानी से पहुंच जाते हैं, जहां पर अन्य बड़े या भारी जानवर का पहुंचना संभव नहीं होता। अपने छोटे आकार के कारण पेड़ और पत्तियों में आसानी से छुप जाते हैं। अतः शिकारियों द्वारा आसानी से हाथ नहीं आते हैं।

सामान्य बंदरों के समान ही इस प्रजाति की मादा भी बच्चों को अपने साथ चिपका कर रखती हैं। सामान्य तौर पर उनकी उम्र 10 साल के लगभग होती है।

खास बात यह है कि यह अपनी गर्दन को असामान्य रूप से 180 डिग्री तक घुमा सकते हैं ।

आजकल यह पालतू जानवर के रूप में भी काफी पसंद किया जा रहा है। परंतु उनका बहुत ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है। क्योंकि यह बहुत जल्दी अवसाद ग्रस्त हो जाते हैं। अतः इनको खुश रखना बहुत आवश्यक होता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *