कोरोना वायरस के दौरान ताजे लक्षणों में शामिल हुआ यह नया लक्षण, जाने वैज्ञानिकों का खुलासा

कोरोना वायरस (Coronavirus) ने पूरी संसार में कहर मचाया हुआ है। जहां कई देश इस वैश्विक महामारी (Global Pandemic) की चपेट में आने के बाद उबर चुके हैं तो वहीं अभी भी कई देश हैं जहां इस जानलेवा बीमारी का खतरा बरकरार है।

वहीं अब जानकारी मिली है कि इस बीमारी के अब तक के बताए गए लक्षणों में लक्षण शामिल हो गया है। कोरोना के ताजे लक्षणों में शामिल हुआ है मुंह में रैशेज़ होना। हालांकि अभी ये जानकारी वैज्ञानिकों से प्राप्त हुई है। हिंदुस्तान में आईसीएमआर (ICMR) ने आधिकारिक तौर पर इसे तय लक्षणों में शामिल नहीं किया है।

कोविड-19 (Covid-19) व सामान्य फ्लू के बीच अंतर करना कठिन है। कोरोना वायरस के लक्षण (Symptoms of Coronavirus) भी आम फ्लू की तरह बुखार, सूखी, खांसी व सांस लेने में परेशानी आदि हैं। बाद में कोविड-19 के लक्षण जो बताए गए वह भी अधिकांश लोगों को सामान्य वायरल के दौरान हो जाते हैं। जैसें कि सर्दी लगना, किसी भी वस्तु की स्मेल न आना या फिर मुंह में किसी वस्तु का स्वाद न लगना।

  • बीते कुछ दिन में आए हैं ऐसे लक्षण वाले मरीज

मुंह में रैशेज होने को कोरोना वायरस के ताजे लक्षणों में शामिल किया गया है। स्पेन के डॉक्टर्स ने यह जानकारी साझा की है। इन डॉक्टर्स का बोलना है कि बीते कुछ दिनों में इनके पास ऐसे कई कोरोना मरीज पहुंचे हैं जिन्हें माउथ रैशेज की समस्या थी। इस समस्या चिकित्सीय भाषा में एनांथम (Enanthem) बोला जाता है।

जामा डर्मेटोलॉजी में 15 जुलाई को प्रकाशित हुई इस स्टडी में बताया गया है कि बीते कुछ समय में जितने भी मरीज कोविड-19 से संक्रमित से पाए गए हैं उनमें से 21 मरीजों के स्किन रैशेज व 21 में से 6 मरीजो के माउथ रैशेज की समस्या थी।

बता दें कोरोना से संक्रमित मरीजों में ये लक्षण हाल में देखने को मिला है या नहीं इसे बारे में अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है। क्योंकि कोविड-19 बिल्कुल नया वायरस था ऐसे में प्रत्यक्ष दिखने वाले लक्षणों के अतिरिक्त ओरल हेल्थ की जाँच शुरुआती स्तर पर नहीं की गई थी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *