पाकिस्तान के इस दिग्गज खिलाड़ी ने भारतीय बल्लेबाजों की आलोचना

आज हम आपको बतायेंगे कि पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने भारतीय बल्लेबाजों की आलोचना करते हुए कहा कि भारत के बल्लेबाज अपने रिकॉर्ड के लिए खेलते थे। लेकिन हमारे बल्लेबाज अपनी टीम के लिए खेलते थे। उन्होंने बताया कि भारत के बल्लेबाज ज्यादा बेहतर बल्लेबाजी कर सकते थे।

लेकिन भारतीय बल्लेबाजों ने अपने रिकॉर्ड के लिए बल्लेबाजी की थी। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने कहा कि भारतीय बल्लेबाज व्यक्तिगत रिकॉर्ड के लिए खेलते थे। ना की अपनी टीम के लिए खेलते थे। इंजमाम-उल-हक अपने समय के एक बेहतरीन बल्लेबाज थे। उन्होंने अच्छे से अच्छे गेंदबाजों की जमकर खबर लिया करते थे।

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने कहा कि हमारे समय में भारत के बल्लेबाज कागजी रिकॉर्डो में बेहतर थे। हमारे खिलाड़ी कागजी रिकॉर्डो में बेहतर नहीं थे। हमारे बल्लेबाजों के 30-40 रन बना पाते तो उस समय भारतीय बल्लेबाज शतक लगाते थे।

लेकिन उन बल्लेबाजों में हमारे बल्लेबाज टीम के लिए ज्यादा मेहनत कर पाते थे। क्योंकि भारतीय बल्लेबाज अपने रिकॉर्ड पर ध्यान देते थे और हमारे बल्लेबाज टीम हित में खेलते थे। इंजमाम-उल-हक के अनुसार भारतीय बल्लेबाज बेहतर खेलते थे, लेकिन वो व्यक्तिगत रिकॉर्ड के लिए खेलते थे।

इंजमाम-उल-हक ने पाकिस्तान के लिए 120 टेस्ट मैच खेले हैं। इंजमाम-उल-हक ने 120 टेस्ट मैचों की 200 पारियों में लगभग 49 की औसत से 8830 रन बनाए थे। इंजमाम-उल-हक ने टेस्ट मैचों में कुल 25 शतक और 46 अर्धशतक लगाए हैं।

उनका टेस्ट मैचों में सर्वाधिक स्कोर 329 रनों का था। इंजमाम-उल-हक ने पाकिस्तान की तरफ से कुल 378 एकदिवसीय मैच खेले थे। जिनमें उन्होंने लगभग 40 की औसत और 75 की स्ट्राइक रेट से 11739 रन बनाए थे। उन्होंने एकदिवसीय मैचों में 10 शतक और 83 अर्धशतक लगाए थे। इंजमाम-उल-हक ने एकदिवसीय मैचों में गेंदबाजी विभाग में कुल तीन विकेट भी चटकाए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *