मनुष्य के खून का प्यासा होता है यह बेहद छोटा सा जीव

हम बात कर रहे हैं पिस्सू कि जो एक ऐसा जीव है जो दूसरे के खून पर जिंदा रहता है। प्लेगजैसी भयानक बिमारी को फैलाने में यह जीव बड़ी भूमिका अदा करता है।

पिस्सू की सैंकड़ों जातियां मालूम हैं। ये बिना पंखवाले छोटे कीट हैं जिनकी औसत लंबाई 2 मिलीमीटर होती है। पिस्सू गरम खून वाले जीवों में परजीवी के रूप में रहकर उनका खून चूसते हैं। मनुष्यों के अलावा वे चूहों, पक्षियों, सूअरों, कुत्तों तथा अन्य जानवरों पर अपनी कृपा दृष्टि बरसाते हैं।

चौदहवीं सदी में यूरोप में प्लेग ने ढाई करोड़ लोगों की जान ली थी। परंतु प्लेग मनुष्य पर आश्रित पिस्सुओं के कारण नहीं फैलता। प्लेग के लिए जिम्मेदार हैं चूहों के पिस्सू।

प्लेग बीमारी सबसे पहले चूहों में फैलती है। इस बीमारी से जब चूहे बड़ी संख्या में मर जाते हैं, तब उनके पिस्सुओं को मजबूरन अन्य प्राणियों का खून चूसना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *