कील-मुंहासों के दाग से छुटकारा पाने के उपाय

त्वचा की देखभाल

पिंपल्स के दाग को मिटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Pimple Marks in Hindi

अब जब कील-मुंहासों के बारे में इतना कुछ आप जान ही गए हैं, तो अब सवाल उठता है कि पिंपल के दाग कैसे मिटाएं? इसके लिए हम यहां कुछ घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं। एक बात का ध्यान रखें कि ये घरेलू इलाज मुंहासों के दाग की गहराई और गंभीरता पर निर्भर करते हैं। अगर दाग गंभीर, पुराने और गहरे हैं, तो उन्हें हटाने के लिए किसी विशेषज्ञ की सलाह की जरूरत होगी।

1. संतरे के छिल्के का पाउडर

सामग्री

एक चम्मच संतरे के छिल्के का पाउडर (आप चाहें तो संतरे के छिल्कों को धूप में सुखाकर उसका पाउडर बना सकते हैं या बाजार से भी खरीद सकते हैं )

एक चम्मच शहद

बनाने और लगाने की विधि

एक कटोरी में संतरे के छिल्के का पाउडर और शहद मिलाकर पेस्ट बना लें।

अब इस पेस्ट को पिंपल के दाग पर लगाएं।

इसे लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें फिर पानी से धो लें।हफ्ते में कितनी बार लगाएं?

आप इसे हर एक दिन छोड़कर लगा सकते हैं।कैसे फायदेमंद है?

संतरे की तरह ही संतरे के छिल्के में भी कई गुण होते हैं। संतरे के छिल्के में रंग को हल्का करने के गुण होते हैं, जिस कारण यह मुंहासों के दाग और पिगमेंटेशन को कम कर सकता है (1)।

2. नारियल तेल

सामग्री

एक चम्मच नारियल तेल

उपयोग करने की विधि

एक चम्मच नारियल तेल को अपने हथेलियों पर लगा लें।

अब इस तेल को अपने चेहरे पर लगाएं, खासकर मुंहासों के कारण हुए दाग पर।

इसे रात को लगाएं और रातभर लगा रहने दें।

फिर अगली सुबह पानी से धो लें।

हफ्ते में कितनी बार लगाएं?

आप इसे हर रोज लगा सकते हैं या फिर हर एक दिन छोड़कर।कैसे फायदेमंद है?

जब बात त्वचा की हो तो नारियल तेल के कई फायदे हैं। इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन-ई होता है, जो आपकी त्वचा में स्वस्थ टिश्यू को बनने में मदद करता है। साथ ही त्वचा में एक नई जान डालकर उसे निखारता है। नारियल तेल के एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-मायक्रोबियल गुण नए कील-मुंहासों से भी त्वचा को क्षति पहुंचाने से बचाते हैं (2)। हालांकि, कुछ लोगों को इसे लगाने से व्हाइट हेड हो सकते हैं, क्योंकि यह आपके छिद्रों को बंद कर सकता है। इसलिए, बेहतर होगा कि आप पहले पैच टेस्ट या त्वचा के थोड़े से हिस्से में लगाकर एक बार परीक्षण कर लें कि आपकी त्वचा में इससे कोई एलर्जी या रिएक्शन तो नहीं हो रहा है।3. बेसन

सामग्री

एक चम्मच बेसन

गुलाब जल या नींबू का रस (आवश्यकतानुसार)

बनाने और लगाने की विधि

एक चम्मच या अपनी आवश्यकतानुसार बेसन लें और उसमें गुलाब जल मिलाकर थोड़ा गाढ़ा पेस्ट बना लें।

अब इस पेस्ट को अपने चेहरे, गर्दन और मुंहासे के दाग पर लगाएं।

फिर इसे थोड़ी देर सूखने दें और जब सूख जाए, तो पानी से धो लेहफ्ते में कितनी बार लगाएं

आप इसे एक दिन छोड़कर लगा सकते हैं।कैसे फायदेमंद है?

त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए बेसन का वर्षों से उपयोग किया जाता आ रहा है। बेसन त्वचा की परेशानियों जैसे मुंहासे और मुंहासे के दाग को कम करने का एक अच्छा उपाय है। इसमें मौजूद, एक्सफोलिएटिंग (मृत त्वचा को हटाना) और रंगत को निखारने के गुण त्वचा के दाग-धब्बों को काफी हद तक कम कर सकते हैं।

4. टी ट्री ऑइल

सामग्री

तीन से चार बूंद टी ट्री ऑइल

एक चम्मच नारियल तेल

बनाने और लगाने की विधि

नारियल तेल में तीन से चार बूंद टी ट्री ऑइल मिलाएं।

तेल के इस मिश्रण को दाग पर रातभर लगा रहने दें या फिर सुबह नहाने से एक या दो घंटे पहले लगाएं।

हफ्ते में कितनी बार लगाएं?

आप इसे हर रोज लगा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *