घर के मंदिर किस प्रकार की रखें सावधानियां नहीं तो…

हमारे हिन्दू समाज में सुबह की शुरूआत हर घरों में पूजा से ही होती है। लोग सुबह उठकर ईश्वर को ही याद करते है। जिसके लिये हर घर पर मंदिर रखें जाते है। जिससे हमें हर समय ईश्वर की शक्ति का अभास मिलता रहता है। क्योकि मंदिक के घर पर रहने से हमारे चारों तरफ सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। लेकिल घर पर मंदिक होने से कुछ बाते ऐसी है जिन्हें हम भूलवश कर बैठते है जो नकारात्मक ऊर्जा पैदा करने का काम करता है। इसलिए यदि आपके घर में मंदिर हैं तो आपको कुछ खास बातों का अवश्य ध्यान रखना चाहिए। पूजा स्थल में किस प्रकार से ध्यान रखना चाहिये जानिये उन खास चीजों के बारें में..

घर के मंदिर में कभी भी आप टूटी हुई प्रतिमा को ना रखें। और ना ही घर पर रखी भगवान कनी प्रतिमाओं में धूल मिट्टी जमना चाहिए। नही तो आपको इसके नाकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते है। इसलिये समय-समय पर इन्हें साफ करते रहना चाहिए।

घर के मंदिर में भगवान की मुर्तियों के साथ आरती करने वाला दीया भी साफ सुधरा होना चाहिये। पूजा के पात्रों में धूल-मिट्टी की परत चढ़ने से नकारात्मक ऊर्जा को प्रवेश होने लगती है जिसके फल हमें सही प्राप्त नही होते है।

पूजा करते वक्त आप सिर पर कपड़ा रखें। व बालों को ढ़ककर रखना चाहिए। जिससे बाहरी आवरणों का असर हम पर न पड़े।

घर के मंदिर में शिवलिंग बड़ा नहीं होना चाहिए, हमेशा छोटा शिवलिंग ही रखना चाहिए।

हमेशा पूजा स्थल में पीले या फिर लाल कपड़ों का इस्तेमाल करना चाहिये। काले या भूरे या फिर सफेद वस्त्रों का उपयोग बिल्कुल भी ना करें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *