IPL के दौरान ऑनलाइन पिज्जा ऑर्डर करना किस क्रिकेटर को महँगा पड़ा और लगी 50 हजार की चपत? जानिए उनका नाम

मध्य प्रदेश की अंडर-19 टीम के पूर्व कप्तान विक्रांत को आनलाइन पिज्जा आर्डर करना महंगा पड़ा। कोरोना के डर से क्रिकेटर ने डोमिनोज को आनलाइन पिज्जा आर्डर किया था। यह ऑर्डर उनको महंगा पड़ गया और उनके बैंक अकाउंट से 50 हजार के करीब पैसे गायब हो गए।

ग्वालियर। इस वक्त भारत में इंडियन प्रीमियर लीग का खुमार क्रिकेट प्रेमियों पर चढ़ा हुआ है। मध्य प्रदेश की अंडर-19 टीम के पूर्व कप्तान विक्रांत भदौरिया को आनलाइन पिज्जा आर्डर करना महंगा पड़ गया। कोरोना के डर से क्रिकेटर ने तीन दिन पूर्व डोमिनोज को आनलाइन पिज्जा आर्डर किया था। यह ऑर्डर उनको महंगा पड़ गया और उनके बैंक अकाउंट से 50 हजार के करीब पैसे गायब हो गए।

डिलीवरी से पहले 300 रपये के भुगतान के लिए उनके मोबाइल पर एक लिंक आई। इस लिंक पर क्लिक करते ही उनके खाते से 40 हजार 900 रपये निकल गए। विक्रांत से गलती यह हो गई कि पिज्जा आर्डर करने के लिए डोमिनोज का नंबर इंटरनेट से निकाला था। क्राइम ब्रांच ने धोखाध़़डी का मामला दर्ज कर लिया है।

विक्रांत पुत्र रमेश भदौरिया कंधे में परेशानी के चलते घर पर आराम कर रहे हैं। कोरोना कर्फ्यू लगने से एक दिन पहले 14 अप्रैल को पिज्जा खाने की इच्छा हुई। चूंकि जिला प्रशासन ने रेस्टोरेंट व कैफे में बैठाकर खिलाने पर पाबंदी लगा दी थी, इसलिए कोरोना संक्रमण से बचने के लिए डोमिनोज से आनलाइन पिज्जा मंगाने का मन बनाया। विक्रांत ने डोमिनोज को आर्डर करने के लिए इंटरनेट पर नंबर तलाश किया। कॉल लगाने पर पूरा रिस्पांस दिया गया। साथ ही बताया कि आनलाइन भुगतान करने के बाद कितने मिनट में उनके घर पिज्जा डिलीवर हो जाएगा।

50 हजार की चपत लगी

विक्रांत भदौरिया ने क्राइम ब्रांच को बताया कि जिस नंबर पर बात हुई थी, उसी नंबर से उनके मोबाइल पर पिज्जा का भुगतान करने के लिए लिंक आई। इस लिंक पर क्लिक करते ही उनके खाते से 49 हजार 900 रपये निकल गए। ठग शातिर हैं। चूंकि 50 हजार व उससे अधिक के भुगतान के लिए पेन कार्ड अनिवार्य है, इसलिए ठगों ने खाते से 50 हजार में से 100 रपये कम ही निकाले। शातिर ठगों ने कई ब्रांडेड कंपनी के नाम से फर्जी आइडी बना रखी है और यह लोग फर्जी आइडी से ठगी कर रहे हैं। क्राइम ब्रांच थाना पुलिस ने एसपी अमित सांघी के निर्देश पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर साइबर ठगों की तलाश शुरू कर दी है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *