क्यों पाकिस्तान के आम लोग पेट भर तक रोटी खाने के लिये भी तरस रहे हैं, विस्तार से जाने

पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान ने प्रधानमंत्री बनने से पहले पाकिस्तान के आम लोगो को ऐसे सुनहरे सपने दिखाए जिससे लोगों ने इमरान पर भरोसा करके आम चुनावों में इमरान खान की पार्टी को वोट दिए।इमरान ने चुनावों से पहले वहां की जनता से वादा किया था की उनके प्रधानमंत्री बनने पर आम लोगों के जीवन मे तब्दीली लाएंगे ताकि लोगोँ के जीवन मे हर मोर्चे पर खुशहाली आ सके। पर वहाँ के लोगो मे खुशहाली आने की बजाय मुसीबतों में और अधिक इजाफा हो गया।अब तो पाकिस्तान के आम लोग सार्वजनिक रूप से कहने लगे हैं कि इमरान की पार्टी को वोट देकर प्रधानमंत्री बनाना उनके जीवन की सबसे बड़ी भूल थी।

पाकिस्तान की जनता ने इमरान खान को वोट इसलिये दिए थे ताकि उनके जीवन मे खुशहाली आ पाए ।लेकिन जब से इमरान प्रधानमंत्री बने हैं तबसे खुशहाली तो दूर बल्कि मुसीबतों में कई गुना इजाफा हो गया है।इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने से पाकिस्तान के लोग महंगाई से इस कदर परेशान हैं की उन्हें पेट भर रोटी तक नसीब नहीं हो पा रही है।क्योंकि पाकिस्तान में आज कुछ किलो आटे की सामान्य थैली भी हज़ारो रुपये की है जिसे आम लोगों के लिए खरीद पाना काफी मुश्किल हो गया है।इसलिय वहां के आम लोगोँ ने रोटी खाना भी कम कर दिया है ताकि आटे की बचत हो पाये।इस तरह पाकिस्तान के आम लोग पेट भर रोटी तक खाने को भी तरस रहे हैं।

पाकिस्तान के आम लोग अब तो सार्वजनिक रूप से कहने लगे हैं की इमरान खान को वोट देकर उन्होंने जीवन की सबसे बड़ी भूल की थी।वहां की जनता इमरान खान को लगातार कोस रही है और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को इमरान से बेहतर प्रधानमंत्री बता रही है।आम लोगोँ के मुताबिक नवाज़ शरीफ़ चाहे कितने भी भ्र्ष्ट हो पर उनके प्रधानमंत्री होने पर आम लोगों को ना तो इतनी मुसीबतें झेलनी पड़ रही थी और ना ही इतनी महंगाई थी।कम से कम हर शक़्स को पेट भर खाना तो मिल रहा था पर इमरान की सरकार में एक वक्त का खाने के लिए भी लोग तरस रहे हैं।

दोस्तों ये हकीकत है पाकिस्तान की।अब आने वाले समय मे इमरान ने महंगाई पर काबू नहीं पाया तो यकीनन पाकिस्तान के आम लोग सड़कों पर निकल आयेगी और इमरान का प्रधानमंत्री रहना काफी मुश्किल हो जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.